HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. उपराज्यपाल ने तस्वीरें शेयर कर गिनाईं खामियां, सीएम केजरीवाल बोले-जो काम आप कर रहे हैं, वो विपक्ष को करना चाहिए था

उपराज्यपाल ने तस्वीरें शेयर कर गिनाईं खामियां, सीएम केजरीवाल बोले-जो काम आप कर रहे हैं, वो विपक्ष को करना चाहिए था

सीएम केजरीवाल ने पलटवार किया है। उन्होंने उपराज्यपाल के पोस्ट पर पलटवार करते हुए लिखा कि, LG साहिब, मैं आपका शुक्रगुज़ार हूं कि आपने हमारी कमियां बतायीं। इसके पहले आपने किराड़ी और बुराडी की कमियों को भी उजागर किया था। मैं अभी मुख्य सचिव को आदेश दे रहा हूं कि वो सात दिन के अंदर इन सभी इलाक़ों की इन सभी कमियों को दूर करे।

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना के बीच अक्सर तकरार की खबरें आती रहती हैं। इस बीच उपराज्यपाल ने कुछ तस्वीरों को शेयर करते हुए सीएम केजरीवाल पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि, अरविंद केजरीवाल जी से अनुरोध है कि दिल्ली और दिल्ली की आम जनता की समस्याओं की तरफ ध्यान दें।

पढ़ें :- इनकी न तो काम करने की नीति है और न नीयत...पानी किल्लत पर मनोज तिवारी का केजरीवाल सरकार पर निशाना

इसके साथ ही कहा कि, बेतरतीब लटकती बिजली की तारें खतरनाक हैं और उबड़-खाबड़ सड़क पर मेरे सामने ही रिक्शा पलटा और एक महिला घायल हुई। उफनती नालियां, कचरे के ढेर और सीवर के बदबूदार पानी से भरी गलियां, भारत की राजधानी में होंगी, देश इसकी कल्पना नहीं कर सकता।

वहीं, इस पर सीएम केजरीवाल ने पलटवार किया है। उन्होंने उपराज्यपाल के पोस्ट पर पलटवार करते हुए लिखा कि, LG साहिब, मैं आपका शुक्रगुज़ार हूं कि आपने हमारी कमियां बतायीं। इसके पहले आपने किराड़ी और बुराडी की कमियों को भी उजागर किया था। मैं अभी मुख्य सचिव को आदेश दे रहा हूं कि वो सात दिन के अंदर इन सभी इलाक़ों की इन सभी कमियों को दूर करे।

इसके साथ ही लिखा कि, जो काम आप कर रहे हैं, वो काम विपक्ष को करना चाहिए था। सत्ता पक्ष की कमियां निकालना विपक्ष का काम है। दुर्भाग्यवश, आज विपक्ष यानि बीजेपी के सातों सांसद राजनीति से सन्यास लेने में व्यस्त हैं और आठों विधायक गहरी निद्रा में सोये हैं। यही कारण है कि दिल्ली की सत्ता पिछले 26 साल से बीजेपी से दूर है। इसलिए, मज़बूरीवश, LG के संवैधानिक पद पर होते हुए भी विपक्ष की भूमिका आपको निभानी पड़ रही है।

उन्होंने आगे लिखा कि, जो कमियां आपने बतायी हैं-जिन अधिकारियों को ये काम करना था और उन्होंने नहीं किया, उनके ख़िलाफ़ सख़्त से सख़्त एक्शन होना चाहिए। “services” और “vigilance” आपके अधिकार क्षेत्र में आता है। अगर ये मेरे अंडर होता तो मैं ना केवल ऐसे लापरवाह अफ़सरों को तुरंत सस्पेंड करता बल्कि उनके ख़िलाफ़ ऐसा एक्शन लेता कि फिर कोई अधिकारी ऐसी कौताही करने की हिम्मत ना करता। मैं उम्मीद करता हूं कि आप इन विभागों के सबसे सीनियर अधिकारियों को तुरंत सस्पेंड करेंगे और उन्हें exemplary सज़ा देंगे। 2 करोड़ दिल्लीवासी आपके एक्शन का इंतज़ार करेंगे।

पढ़ें :- हमने हरियाणा सरकार से अपील की है कि वह मानवीय आधार पर कुछ अतिरिक्त पानी छोड़े: आतिशी

 

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...