1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. मनी लॉन्ड्रिंग : एनसीपी नेता एकनाथ खडसे के दामाद गिरफ्तार, ईडी ने इस मामले में की कार्रवाई

मनी लॉन्ड्रिंग : एनसीपी नेता एकनाथ खडसे के दामाद गिरफ्तार, ईडी ने इस मामले में की कार्रवाई

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मंगलवार को महाराष्ट्र के पूर्व राजस्व मंत्री और एनसीपी नेता एकनाथ खडसे के दामाद गिरीश चौधरी को गिरफ्तार कर लिया है। गिरीश चौधरी की गिरफ्तारी पुणे एमआईडीसी भूमि सौदा से जुड़े धनशोधन मामले में हुई है। चौधरी को मंगलवार सुबह पूछताछ के लिए बुलाया था। देर शाम तक पूछताछ चलती रही है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मंगलवार को महाराष्ट्र के पूर्व राजस्व मंत्री और एनसीपी नेता एकनाथ खडसे के दामाद गिरीश चौधरी को गिरफ्तार कर लिया है। गिरीश चौधरी की गिरफ्तारी पुणे एमआईडीसी भूमि सौदा से जुड़े धनशोधन मामले में हुई है। चौधरी को मंगलवार सुबह पूछताछ के लिए बुलाया था। देर शाम तक पूछताछ चलती रही है।

पढ़ें :- इंटेल इंडिया के पूर्व कंट्री हेड की मौत, साइकिल चलाते समय पीछे से तेज रफ्तार कैब ने मारी थी टक्कर

ईडी के अधिकारियों ने गिरीश चौधरी की ओर से दिए गए विभिन्न दस्तावेजों का भी विश्लेषण किया था। ईडी ने इससे पहले जनवरी में एकनाथ खडसे से पुणे एमआईडीसी भूमि सौदा मामले में पूछताछ की थी। बता दें कि भाजपा से एनसीपी में शामिल हुए एकनाथ खडसे को ईडी ने दिसंबर में नोटिस भेजकर पेश होने के लिए कहा था। इसके बाद में एकनाथ खडसे ने गिरफ्तारी से सुरक्षा की मांग करते हुए बॉम्बे हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। उन्होंने आरोप लगाया था कि ईडी ने भाजपा से एनसीपी में जाने के बाद यह कार्रवाई की। हालांकि, एजेंसी ने अदालत को बताया था कि एकनाथ खडसे आरोपी नहीं थे, लेकिन पेश न होना गिरफ्तारी का आधार बन सकता है।

क्या है मामला?

महाराष्ट्र पुलिस के भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने वर्ष 2017 में पूर्व राजस्व मत्री एकनाथ खडसे, उनकी पत्नी मंदाकिनी, दामाद गिरीश चौधरी और मूल भूमि मालिक अब्बास अकानी के खिलाफ मामला दर्ज किया था। यह मामला खडसे और अन्य के द्वारा पुणे के पास एमआईडीसी में मुख्य भूखंड की खरीद में कथित अनियमितताओं से संबंधित था।

हेमंत गावंडे नाम के सदस्य की ओर से लगाए गए आरोपों पर यह मामला दर्ज किया गया था, जिन्होंने आरोप लगाया था कि खडसे ने भोसरी एमआईडीसी भूमि सौदा मामले में सरकारी खजाने को चपत लगाई थी। वर्ष 2018 में एंटी करप्शन ब्यूरो ने 22 पेज की रिपोर्ट के जरिए खडसे को क्लीन चिट दे दी थी।

पढ़ें :- Maharashtra शिवसेना नेता को फेसबुक लाइव के दौरान ताबड़तोड़ फायरिंग कर उतारा मौत के घाट, देखें मौत का लाइव वीडियो

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...