1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. Mukesh Ambani Retirement Plan : Reliance Group में नेतृत्व परिवर्तन तय, जानें कौन होगा मुकेश का उत्तराधिकारी?

Mukesh Ambani Retirement Plan : Reliance Group में नेतृत्व परिवर्तन तय, जानें कौन होगा मुकेश का उत्तराधिकारी?

Mukesh Ambani Retirement Plan : एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) की कमान संभाल रहे मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) जल्दी ही रिटायर होने वाले हैं। इसके कयास तो काफी पहले से ही लगाए जा रहे थे, लेकिन इसके संकेत मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ने खुद दिए हैं। उन्होंने ऐलान किया कि आने वाले समय में रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) की लीडरशिप में बड़े बदलाव देखने को मिल सकते हैं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Mukesh Ambani Retirement Plan : एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) की कमान संभाल रहे मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) जल्दी ही रिटायर होने वाले हैं। इसके कयास तो काफी पहले से ही लगाए जा रहे थे, लेकिन इसके संकेत मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ने खुद दिए हैं। उन्होंने ऐलान किया कि आने वाले समय में रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) की लीडरशिप में बड़े बदलाव देखने को मिल सकते हैं।

पढ़ें :- Forbes Real Time Billionaire List : मुकेश अंबानी कमाई में टॉपर, तो एलन मस्क बने लूजर नंबर वन

रिलायंस इंडस्ट्रीज के प्रमुख मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ने अपने कारोबार समूह में नेतृत्व बदलाव (Reliance Leadership Transition) का जिक्र करते हुए मंगलवार को कहा कि वह वरिष्ठ सहयोगियों के साथ मिलकर युवा पीढ़ी को बागडोर सौंपने की प्रक्रिया में तेजी लाना चाहते हैं। मुकेश अंबानी ने देश की सबसे मूल्यवान कंपनी में उत्तराधिकार को लेकर पहली बार कोई वक्तव्य देते हुए कहा कि रिलायंस अब एक महत्वपूर्ण नेतृत्व बदलाव को अंजाम देने की प्रक्रिया का हिस्सा है।

बता दें कि रिलायंस समूह की बागडोर मुकेश अंबानी ने अपने पिता धीरूभाई अंबानी (Dhirubhai Ambani) से संभाली थी। अब 64 साल के हो चुके मुकेश अंबानी ने अपने पिता के जन्मदिन पर आयोजित कार्यक्रम में उत्तराधिकार सौंपने की प्रक्रिया शुरू करने की जानकारी दी है। इस दौरान उनके साथ उनकी पत्नी नीता अंबानी, दो बेटे आकाश एवं अनंत और एक बेटी ईशा मौजूद थे।

अंबानी ने कहा कि रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) आने वाले वर्षों में दुनिया की सर्वाधिक प्रतिष्ठित एवं मजबूत कंपनियों में शुमार होगी। उन्होंने कहा कि इसमें स्वच्छ एवं हरित ऊर्जा क्षेत्रों के अलावा खुदरा एवं दूरसंचार कारोबार की भूमिका अहम होगी जो अभूतपूर्व दर से बढ़ रहे हैं।

मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ने कहा कि बड़े सपनों और नामुमकिन नजर आने वाले लक्ष्यों को हासिल करने के लिए सही लोगों को जोड़ना और सही नेतृत्व होना जरूरी है। रिलायंस अब एक महत्वपूर्ण नेतृत्व बदलाव को अंजाम देने की प्रक्रिया में हैं। यह बदलाव मेरी पीढ़ी के वरिष्ठों से नए लोगों की अगली पीढ़ी को होगा। उन्होंने कहा कि वह इस प्रक्रिया को तेज करना चाहेंगे।

पढ़ें :- Gautam Adani's Big Success : गौतम अडानी ने मुकेश अंबानी पीछे छोड़ ,हासिल किया एशिया के सबसे अमीर शख्स का ताज

मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ने अपने संबोधन में कहा कि मुझे लेकर सभी वरिष्ठों को अब रिलायंस में बेहद काबिल, प्रतिबद्ध एवं प्रतिभाशाली युवा नेतृत्व को विकसित करना चाहिए। हमें उनका मार्गदर्शन करना चाहिए, उन्हें सक्षम बनाना चाहिए और प्रोत्साहित करना चाहिए। जब वे हमसे बेहतर प्रदर्शन करते हुए दिखाई दें तो हमें आराम से बैठकर तालियां बजानी चाहिए। हालांकि उन्होंने इसका अधिक ब्योरा नहीं दिया है।

पिता धीरूभाई के निधन के बाद लंबा चला था बंटवारे का विवाद

बता दें कि मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) अपने पिता के 2002 में निधन के बाद से रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं। मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) के रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries)के चेयरमैन बनने के बाद भारतीय कॉरपोरेट जगत का साबका सबसे बुरे पारिवारिक विवादों में से एक से पड़ा था। मुकेश अंबानी और अनिल अंबानी (Anil Ambani) के बीच संपत्ति के बंटवारे को लेकर लंबा विवाद चला था। जिन्हें बाद में मां कोकिलाबेन अंबानी (Kokilaben Ambani) की दखल से सुलटाया जा सका था। मुकेश अंबानी अब नई पीढ़ी को जिम्मा सौंपते वक्त ऐसे किसी भी विवाद की गुंजाइश नहीं छोड़ना चाहते हैं।

पिता धीरूभाई से की बच्चों की तुलना

इस दौरान उन्होंने दोनों बेटों आकाश अंबानी (Akash Ambani), अनंत अंबानी (Anant Ambani) और बेटी ईशा अंबानी (Isha Ambani) की तारीफ की है। कहा कि तीनों अगली पीढ़ी के लीडर हैं, इस पर उन्हें कोई संदेह नहीं है। ये तीनों रिलायंस को और ऊंचाई पर ले जाएंगे। उन्होंने कहा कि मैं हर दिन रिलायंस के प्रति तीनों का पैशन, कमिटमेंट और डिवोशन महसूस करता हूं। भारत की प्रगति में योगदान करने और लाखों लोगों के जीवन में बदलाव लाने का जो जुनून मेरे पिता में थी, मैं उसे इन तीनों में देख पाता हूं।

पढ़ें :- Gautam Adani कमाई के मामले में बने दुनिया में नंबर 1, मस्क-बेजोस व अंबानी को पछाड़ लगाई लंबी छलांग

रिलायंस आने वाले समय में क्लीन एंड ग्रीन एनर्जी के क्षेत्र में ग्लोबल लीडर बनेगी

अंबानी ने इस मौके पर कंपनी के बिजनेस की चर्चा करते हुए बताया कि कैसे रिलायंस एक टेक्सटाइल कंपनी के तौर पर शुरू हुई और आज एनर्जी बिजनेस में बड़ा हिस्सा रखती है। उन्होंने कहा कि रिलायंस आने वाले समय में क्लीन एंड ग्रीन एनर्जी के क्षेत्र में ग्लोबल लीडर बनेगी। उन्होंने पिछले एक साल में रोजगार के करीब एक लाख मौके बनाने का भी दावा किया है।अंबानी ने कहा कि इस एक साल में रिलायंस ने करीब 10 लाख छोटे दुकानदारों को अपने साथ जोड़ा है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...