HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. नदी में तैरते शव मामले में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग सख्त, केंद्र, बिहार और यूपी को भेजा नोटिस

नदी में तैरते शव मामले में राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग सख्त, केंद्र, बिहार और यूपी को भेजा नोटिस

कोरोना महामारी काल में बीते कुछ दिनों में बिहार और यूपी के जिलों में गंगा नदी में तैरते मिले दर्जनों शव मिले हैं। इस मामले पर राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने गुरुवार को संज्ञान लिया है। एनएचआरसी ने केंद्र, यूपी और बिहार की सरकारों को नोटिस जारी कर, चार हफ्तों में कार्रवाई की रिपोर्ट मांगी है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। कोरोना महामारी काल में बीते कुछ दिनों में बिहार और यूपी के जिलों में गंगा नदी में तैरते मिले दर्जनों शव मिले हैं। इस मामले पर राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने गुरुवार को संज्ञान लिया है। एनएचआरसी ने केंद्र, यूपी और बिहार की सरकारों को नोटिस जारी कर, चार हफ्तों में कार्रवाई की रिपोर्ट मांगी है।

पढ़ें :- Budget 2024: बजट में राज्यों के साथ पूरी तरह से किया गया भेदभाव...जानिए इंडिया गठबंधन की बैठक में क्या बनी रणनीति?

नोटिस जारी करते हुए आयोग ने कहा है कि ऐसा लगता है जैसे प्रशासन जनता को गंगा नदी में आधे जले हुए या बिना जले शवों को बहाने के नुकसानों के बारे में शिक्षित नहीं कर सका है। पवित्र नदी गंगा में शवों को बहाना साफ तौर पर जल शक्ति मंत्रालय के स्वच्छ गंगा अभियान के तहत जारी किए दिशा निर्देशों का उल्लंघन है।

आयोग में 11 मई को यह शिकायत की गई थी। शिकायतकर्ता ने कहा है कि कई मीडिया रिपोर्ट्स में यह भी आशंका जाहिर की गई है कि नदी में बहाए जा रहे शव कोरोना संक्रमितों के हो सकते हैं। ऐसे में शवों को इस तरह बहाना उन लोगों के लिए गंभीर हो सकता है जो अपनी रोजमर्रा के जीवन में नदी पर निर्भर है।

शिकायतकर्ता ने आगे यह भी कहा है कि अगर ये शव कोरोना संक्रमितों के नहीं भी हैं तो भी इस तरह नदी में लाशें बहाना समाज के लिए शर्मिंदा करने वाला कृत्य है, क्योंकि यह मृत व्यक्ति के मानवाधिकारों का भी हनन है। शिकायतकर्ता ने आयोग से मामले मे हस्तक्षेप की मांग की है और उन लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने को कहा है जो इन मामलों को रोकने में असफल रहे।

पढ़ें :- BJP MLA ने काली नदी की सफाई और अवैध कब्जा मुक्त कराने के लिए सीएम से लगाई गुहार,अधिकारियों पर लगाए गंभीर आरोप
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...