1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. अब शुरू होगा गांव में चुनावी महासंग्राम

अब शुरू होगा गांव में चुनावी महासंग्राम

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

Now The Election Rally Will Start In The Village

लखनऊ: यूपी के कई जिलोें में पंचायत चुनाव के लिए आरक्षण सूची जारी कर दी गई है। वहीं कुछ जिलों की लिस्ट आज आएगी। जिन जिलों की लिस्ट आ गई है उनमें वाराणसी, कन्नौज, रामपुर, मिर्जापुर, अमेठी, मुरादाबाद मेरठ, बलिया,अमेठी, गाजीपुर, भदोही, बांदा,प्रतापगढ़,फतेहुपुर, हरदोई, गाजियाबाद, संभल, एटा, कासगंज, फिरोजाबाद, आगरा आदि शामिल है। इनके अलावा अन्य जिलों की आज लिस्ट आज आएगी। यह लिस्ट सभी जिलाें में जिलाधिकारी कार्यलय, विकास भवन, पंचायत भवन या ब्लाॅक पर चिपकाई जा रही हैं।

पढ़ें :- कर्नाटक के CM येदियुरप्पा की आज हो सकती है विदाई, नए मुख्यमंत्री की रेस में आगे हैं ये चेहरे

अब शुरू होगा गांव में चुनावी महासंग्राम :

आरक्षण के बाद चुनावी महासंग्राम गांव-गांव शुरू हो जायेगा। भले ही आचार संहिता बाद में लगे लेकिन अभी से चुनाव की तैयारी शुरू हो जायेगी। बदायूं जिले में मंगलवार को त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर जिला पंचायत राज विभाग से लेकर ब्लाकों और जिला प्रशासन ने तैयारी अपनी पूरी कर ली है। जिला पंचायत राज अधिकारी के अनुसार बुधवार तीन मार्च को आरक्षण जारी कर दिया जायेगा। ग्राम प्रधान, बीडीसी सदस्य, वार्ड सदस्य के साथ ही जिला पंचायत सदस्य और ब्लाक प्रमुक का भी आरक्षण आ जायेगा। जिसमें साफ हो जायेगा कि किस गांव में किस पद पर कौनसी सीट रहेगी। बतादें कि जिले में 1,037 ग्राम पंचायतों पर ग्राम प्रधान व बीडीसी सदस्य एवं ग्राम वार्ड सदस्य का चुनाव किया जायेगा। इसके अलावा 51 सीटों पर जिला पंचायत सदस्य का चुनाव होगाा। आरक्षण आने के बाद आज तय समय में आपत्ति का कार्य होगा। इसके बाद निर्वाचन आयोग से चुनाव के लिये आचार संहिता लग जायेगा। मंगलवार को दिन भर गांव-गांव चुनाव को लेकर लोग आरक्षण पर नजरें टिकाये रहे हैं। अन्य जिलों में सूची आने की वजह से लोग अपने-अपने गांव का आरक्षण जानने की कोशिश में लगे रहे हैं।

फर्जी सूची से रहे भ्रमित :

जिले में मंगलवार को दिन निकलते से लेकर रात तक सभी भ्रमित रहे हैं। दिन भर जिले में फर्जी सूची सोशल मीडिया पर वायरल होती रही हैं, अधिकांश लोग इस सूची को अधिकृत मानते रहे जबकि किसी भी अधिकारी द्वारा जारी की गई सूची नहीं थी इसलिये अनाधिकृत थी। सभी लोग सूची को लेकर भ्रमित रहे हैं और एक-दूसरे से पूछते रहे हैं।

पढ़ें :- Tokyo Olympic: जानें देश के क्रिकेटरों ने मीराबाई चानू को क्या कह कर दी बधाई, एक के शब्द तो दिल जीत लेंगे

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...