1. हिन्दी समाचार
  2. तकनीक
  3. प्रैक्टो ने ऑनलाईन कंसल्टेशन 15 स्थानीय भाषाओं में किया लॉन्च

प्रैक्टो ने ऑनलाईन कंसल्टेशन 15 स्थानीय भाषाओं में किया लॉन्च

एकीकृत हेल्थकेयर कंपनी प्रैक्टो ने अपनी टेली कंसल्टेशन सेवा के लिए स्थानीय भाषा के विकल्प प्रस्तुत किए हैं। कंपनी ने बुधवार को जारी बयान में कहा कि इसके द्वारा ऑनलाईन कंसल्टेशन यूज़र ऐसा डॉक्टर चुन सकेंगे, जो उनकी पसंद की भाषा बोलता हो।

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली । एकीकृत हेल्थकेयर कंपनी प्रैक्टो ने अपनी टेली कंसल्टेशन सेवा के लिए स्थानीय भाषा के विकल्प प्रस्तुत किए हैं। कंपनी ने बुधवार को जारी बयान में कहा कि इसके द्वारा ऑनलाईन कंसल्टेशन यूज़र ऐसा डॉक्टर चुन सकेंगे, जो उनकी पसंद की भाषा बोलता हो।

पढ़ें :- रिलायंस जियो फाइबर ने लॉन्च किए नए पोस्टपेड प्लान, इंटरनेट बॉक्स के साथ इंस्टॉलेशन भी फ्री होगा

वर्तमान में यह सेवा 15 भाषाओं – हिंदी, मराठी, तमिल, तेलुगू, कन्नड़ और बंगाली में चल रही है और जल्द ही अन्य भाषाओं के लिए भी सेवा शुरू की जाएगी। इसके साथ ही प्रैक्टो भविष्य में 20 करोड़ यूज़र के लिए भाषा की बाधा को दूर करने के अपने उद्देश्य के नज़दीक आ गया है।
प्रैक्टो पर भाषा-विशिष्ट फीचर के लिए यूज़र रिक्वेस्ट मिलने के बाद यह पिछले साल एक पायलट प्रोजेक्ट के रूप में लॉन्च किया गया था तथा यूज़र् को वैकल्पिक भाषा में हिंदी को चुनने का विकल्प दिया गया।

इस अवधि में प्रैक्टो पर 25 प्रतिशत ऑनलाईन कंसल्टेशन स्थानीय भाषाओं में दी गई तथा हिंदी, तमिल, तेलुगू, मराठी, और कन्नड़ (क्रमानुसार) कंसल्टेशन के लिए पसंदीदा भाषाएं रहीं। लगभग 67 प्रतिशत स्थानीय कंसल्टेशन नॉन-मेट्रो शहरों में रहने वाले यूज़र के थे। 65 प्रतिशत स्थानीय कंसल्ट 60 साल से अधिक आयु के यूज़र द्वारा लिए गए।

उसने कहा कि देश में 10 नए इंटरनेट यूजरों में से 9 स्थानीय भाषा बोलते हैं। इसलिए इस तरह का अभियान भारत के विकसित होते डिजिटल हैल्थकेयर के परिवेश में भाषा की बाधाओं को पार करके डिजिटल अंतर को दूर करने में महत्वपूर्ण होंगे।

पढ़ें :- जल्द लॉन्च होंगे स्मार्ट प्रोडक्ट के साथ रियलमी के नया ब्रांड DIZO का एलान
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...