1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. भाई व बेटे के बीच बटी रामविलास पासवान की विरासत, पार्टी का नाम व चुनाव चिन्ह भी बदले

भाई व बेटे के बीच बटी रामविलास पासवान की विरासत, पार्टी का नाम व चुनाव चिन्ह भी बदले

चुनाव आयोग ने लोक जनशक्ति पार्टी के नाम व चुनाव चिन्ह को दो भागों में बांट दिया है। कुछ दिन पहले ही चुनाव आयोग ने पार्टी के नाम व चुनाव चिन्ह को जब्त कर लिया था। आपको बता दें कि लोक जनशक्ति पार्टी की स्थापना करने वाले बिहार के पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के मरने के बाद उनकी विरासत के लिए उनके बेटे और उनके भाई के लड़ाई चल रही है।

By प्रिन्स राज 
Updated Date

पटना। चुनाव आयोग ने लोक जनशक्ति पार्टी के नाम व चुनाव चिन्ह को दो भागों में बांट दिया है। कुछ दिन पहले ही चुनाव आयोग ने पार्टी के नाम व चुनाव चिन्ह को जब्त कर लिया था। आपको बता दें कि लोक जनशक्ति पार्टी की स्थापना करने वाले बिहार के पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के मरने के बाद उनकी विरासत के लिए उनके बेटे और उनके भाई के लड़ाई चल रही है। रामविलास पासवान के बेटे व सांसद चिराग पासवान और उनके भाई केंद्रीय मंत्री पशुपति पारस दोनों ने पार्टी पर अपना अपना अधिकार जताया था।

पढ़ें :- Bihar Politics: RJD विधायक ने किया बड़ा दावा कहा- डिप्टी CM तेजस्वी यादव जल्द बनेंगे बिहार के मुख्यमंत्री

इस कारण चुनाव आयोग ने पार्टी के नाम व चुनाव चिन्ह को जब्त कर नया नाम व चिन्ह जारी कर दिया है। लोक जनशक्ति पार्टी का चुनाव चिन्ह पहले बांग्ला हुआ करता था। अब चिराग के हिस्से में आई पार्टी का नया नाम लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) तथा नया चुनाव चिन्ह हेलिकॉप्टर होगा। जबकि उनके चाचा को विरासत में मिली पार्टी का नाम राष्ट्रीय लोक जनशक्ति पार्टी तथा नया चुनाव चिन्ह सिलाई मशीन होगी। आपको बता दें कि पार्टी पर दावेदारी को लेकर ये लड़ाई चाचा और भतीजे के बीच लंबे समय से चल रही थी। रामविलास पासवान के मरते ही सामने आई दोनों के बीच दरारें चुनाव आयोग के फैसले के बाद शायद अब भर जायें।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...