1. हिन्दी समाचार
  2. तकनीक
  3. स्मार्टफोन मार्केट शेयर में सैमसंग Q3 पहले स्थान पर तथा Apple दूसरे स्थान पर

स्मार्टफोन मार्केट शेयर में सैमसंग Q3 पहले स्थान पर तथा Apple दूसरे स्थान पर

सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स तीसरी तिमाही में वैश्विक स्मार्टफोन बाजार में पहला स्थान बनाए रखने में सफल रही जबकि एप्पल दूसरे स्थान पर रही। अधिक जानने के लिए स्क्रॉल करें

By प्रीति कुमारी 
Updated Date

स्मार्टफोन के ग्लोबल मार्केट में दक्षिण कोरियाई ब्रांड सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स ने एक बार फिर पहला स्थान हासिल करने में कामयाबी हासिल की है एक वैश्विक बाजार अनुसंधान फर्म की रिपोर्ट के अनुसार, एंड्रॉइड फोन निर्माता पहले स्थान पर हैं जबकि आईओएस निर्माता दूसरे स्थान पर हैं। फर्म ने सोमवार को सबसे बड़ी बाजार हिस्सेदारी रखने वाली कंपनियों की सूची जारी की।

पढ़ें :- खुशखबरी: नए होने वाले हैं इन कंपनियों के ये 118 फोन, फटाफट चेक करें लिस्ट, तारीख भी देखें

सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स तीसरी तिमाही में वैश्विक स्मार्टफोन बाजार में पहला स्थान बनाए रखने में सफल रहा। एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक, आईफोन 13 की रिलीज के साथ ऐपल दूसरे स्थान पर है।

सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स ने इस साल की तीसरी तिमाही में 23 प्रतिशत बाजार हिस्सेदारी के साथ वैश्विक स्मार्टफोन बाजार में शीर्ष स्थान हासिल किया है। समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, 18 तारीख को जारी वैश्विक बाजार अनुसंधान फर्म कैनालिस की रिपोर्ट से पता चलता है कि इसने दूसरी तिमाही के समान स्तर को बनाए रखा है।

एपल की बाजार हिस्सेदारी 12 फीसदी से बढ़कर 15 फीसदी हो गई, जो दूसरे स्थान पर है। यह विश्लेषण किया गया है कि सितंबर के मध्य में iPhone13 की रिलीज ने तीसरी तिमाही में बाजार हिस्सेदारी को प्रभावित किया।

Xiaomi की बाजार हिस्सेदारी पिछली तिमाही के समान ही 14 प्रतिशत थी, लेकिन रैंकिंग दूसरे से तीसरे स्थान पर आ गई। वीवो और ओप्पो 10-10 प्रतिशत बाजार हिस्सेदारी के साथ चौथे और 5वें स्थान पर हैं।

पढ़ें :- ZTE ने पेश किया दुनिया का पहला 18GB स्मार्टफोन ZTE Axon 30 Ultra Aerospace Edition: यहाँ करें सुविधाओं, कीमत की जाँच

कैनालिस के मुख्य विश्लेषक बेन स्टैंटन के हवाले से एएनआई ने कहा, चिपसेट का अकाल वास्तव में आ गया है, और वह, चिपसेट निर्माता ओवर-ऑर्डरिंग को कम करने के लिए कीमतें बढ़ा रहे हैं, लेकिन कमी 2022 तक कम नहीं होगी।

स्मार्टफोन की सूची पहले से ही कम चल रही है और उपभोक्ता मांग को पूरा करना मुश्किल है। साथ ही, उपभोक्ताओं को यह उम्मीद करनी पड़ सकती है कि इस साल छूट आक्रामक नहीं होगी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...