1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Shivsena Counterattack on BJP, कहा-हिंदुत्व एक संस्कृति है, अराजकता नहीं

Shivsena Counterattack on BJP, कहा-हिंदुत्व एक संस्कृति है, अराजकता नहीं

महाराष्ट्र में हनुमान चालीसा (Hanuman Chalisa) पाठ मामले को लेकर देश की आर्थिक राजधानी में शह-मात का खेल चरम पर है। नेता प्रतिपक्ष व बीजेपी के वरिष्ठ नेता देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने सोमवार को प्रेस काफ्रेंस कर कहा कि हमें महाराष्ट्र के गृह मंत्री दिलीप वालसे पाटिल (Maharashtra Home Minister Dilip Walse Patil) से आज सर्वदलीय बैठक का निमंत्रण मिला, लेकिन पिछले कुछ दिनों में जो हुआ है, उसे देखते हुए हम नहीं गए। हिटलर की भूमिका किसी ने ली है, तो संवाद करने के बजाय लड़ना बेहतर है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

मुंबई। महाराष्ट्र में हनुमान चालीसा (Hanuman Chalisa) पाठ मामले को लेकर देश की आर्थिक राजधानी में शह-मात का खेल चरम पर है। नेता प्रतिपक्ष व बीजेपी के वरिष्ठ नेता देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने सोमवार को प्रेस काफ्रेंस कर कहा कि हमें महाराष्ट्र के गृह मंत्री दिलीप वालसे पाटिल (Maharashtra Home Minister Dilip Walse Patil) से आज सर्वदलीय बैठक का निमंत्रण मिला, लेकिन पिछले कुछ दिनों में जो हुआ है, उसे देखते हुए हम नहीं गए। हिटलर की भूमिका किसी ने ली है, तो संवाद करने के बजाय लड़ना बेहतर है।

पढ़ें :- BBC Documentary Controversy: दिल्ली से लेकर मुंबई तक बीबीसी डॉक्यूमेंट्री पर हंगामा

देवेंद्र फडणवीस कहा कि ऐसे में गृह मंत्री की बैठक में जाने का क्या फायदा? मुंबई में जो कुछ भी हो रहा है वो सीएम के इशारे पर हो रहा है। ऐसे में अगर आज की बैठक में खुद सीएम मौजूद नहीं हैं तो इसका क्या फायदा? देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि अगर उन्हें लगता है कि इस तरह के हमले करके वे भ्रष्टाचार के खिलाफ हमारी लड़ाई को रोक देंगे, तो यह उनकी गलती है। बीजेपी नेताओं को फर्जी मामलों में फंसाया जा रहा है। हाईकोर्ट उन मामलों को फर्जी बता रहा है तो हाईकोर्ट से ही सवाल कर रहे हैं?

फडणवीस ने कहा कि किसी भी जगह पर हनुमान चालीसा का पाठ पढ़ना राजद्रोह है क्या?

अमरावती से निर्दलीय सांसद नवनीत राणा (Independent MP from Amravati Navneet Rana) और उनके विधायक पति रवि राणा की गिरफ्तारी मामले में  महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस(Former Chief Minister of Maharashtra Devendra Fadnavis ) ने आज उद्धव ठाकरे पर बड़ा हमला बोला है। फडणवीस ने राणा दंपती की गिरफ्तारी को गलत ठहराया है। उन्होंने महाराष्ट्र सरकार पर तानाशाही का आरोप लगाया। फडणवीस ने कहा कि किसी भी जगह पर हनुमान चालीसा (Hanuman Chalisa) का पाठ पढ़ना राजद्रोह है क्या? उन्होंने मुंबई पुलिस पर भी गंभीर आरोप लगाया और कहा कि नवनीत राणा (Navneet Rana)को पीने के लिए पानी नहीं दिया जा रहा है और उन्हें टॉयलेट जाने की भी इजाजत नहीं दी जा रही है। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में अराजकता की स्थिति बनी हुई है।

भाजपा द्वारा फैलाई अराजकता का समर्थन नहीं किया जाएगा

पढ़ें :- Hindenburg Research Report से शेयर बाजार में मचा तहलका, अडानी ग्रुप में जानें कितना लगा है सरकारी पैसा, सकते में LIC और बड़े बैंक

तो वहीं शिवसेना के मुखपत्र में कहा कि महाराष्ट्र में हिंदुत्व ठीक चल रहा है, क्योंकि इसका नेतृत्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे कर रहे हैं। राज्य में हनुमान चालीसा के पाठ पर कोई रोक नहीं है, लेकिन मातोश्री के बाहर इसे करने की जिद क्यों थी?” दैनिक पत्र में कहा गया, ‘भाजपा द्वारा फैलाई अराजकता का समर्थन नहीं किया जाएगा। हिंदुत्व एक संस्कृति है, अराजकता नहीं।’

नवनीत राणा को शिवसेना ने कहा झूठा

शिवसेना ने कहा कि हनुमान सत्य के मार्ग पर चलने वाले राम के अनुयायी हैं। नवनीत राणा, जिनका आधार खुद झूठ पर बना है, वह हनुमान चालीसा के नाम पर राजनीति कर रही हैं और भाजपा इसका महिमामंडन कर रही है।’ शिवसेना ने कहा, ‘अगर भाजपा ऐसे फर्जी लोगों से हनुमान चालीसा का पाठ कराना चाहती है, तो यह भगवान राम और हनुमान का अपमान है।’ पार्टी ने दावा किया कि नवनीत राणा ने कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) जैसी ‘धर्मनिरपेक्ष’ पार्टियों की मदद से 2019 का चुनाव जीता था, लेकिन अब वह भाजपा के खेमे में शामिल हो गई हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...