1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. CBI की कार्यशैली से सुप्रीम कोर्ट नाराज, कहा- कितनों को दिलवाई सजा कितने केस पेंडिंग में दें पूरा ब्योरा

CBI की कार्यशैली से सुप्रीम कोर्ट नाराज, कहा- कितनों को दिलवाई सजा कितने केस पेंडिंग में दें पूरा ब्योरा

सुप्रीम कोर्ट केंद्रीय जांच ब्यूरो की कार्यशैली से नाराज है। कोर्ट ने केंद्र सरकार की इस जांच ऐजेंसी से पिछले कुछ समय में किये गये कार्य का ब्योरा मांगा है। कोर्ट ने कहा है कि आपने कितने केसों पर काम किया उनका क्या निष्कर्ष निकला। कितनों को सजा दिलवाई गई, कितनें मामले पेंडिंग में हैं इन सबका ब्योरा दे एजेंसी।

By प्रिन्स राज 
Updated Date

NEW DELHI: सुप्रीम कोर्ट केंद्रीय जांच ब्यूरो(CBI) की कार्यशैली से नाराज है। कोर्ट ने केंद्र सरकार की इस जांच ऐजेंसी से पिछले कुछ समय में किये गये कार्य का ब्योरा मांगा है। कोर्ट ने कहा है कि आपने कितने केसों पर काम किया उनका क्या निष्कर्ष निकला। कितनों को सजा दिलवाई गई, कितनें मामले पेंडिंग में हैं इन सबका ब्योरा दे एजेंसी। सीबीआई द्वारा मुकदमा चलाए जा रहे मामलों में अत्यधिक देरी का हवाला देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने अदालती मामलों में एजेंसी(Agency) की सफलता दर (RATE)) पर डेटा मांगा है।

पढ़ें :- Supreme Court के सामने दर्दनाक हादसा, महिला और पुरुष ने किया ये काम
Jai Ho India App Panchang

माना जा रहा है कि सुप्रीम कोर्ट सीबीआई के प्रदर्शन का मूल्यांकन कर सकता है। दरअसल, एक मामले में सीबीआई द्वारा 542 दिनों की देरी के बाद अपील दायर किए जाने पर सुप्रीम कोर्ट(COURT) ने नाराजगी व्यक्त की और उसने केंद्रीय एजेंसी के कामकाज औप उसके परफॉर्मेन्स(PERFORMENCE) का विश्लेषण करने का फैसला किया। दो जजों जस्टिस संजय किशन कौल और जस्टिस एम सुंदरेश की पीठ ने कहा कि एजेंसी के लिए केवल मामला दर्ज करना और जांच करना ही काफी नहीं है, बल्कि यह सुनिश्चित करना भी है कि अभियोजन सफलतापूर्वक किया जाए। जस्टिस संजय किशन कौल और एमएम सुंदरेश की बेंच ने कहा कि सीबीआई की कुछ जवाबदेही होनी चाहिए।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...