HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. ऑटो
  3. Tesla in India : टेस्ला का प्लांट लगाने के लिए आंध्र प्रदेश सरकार ने किया आमंत्रित, जानें कौन-कौन है रेस में?

Tesla in India : टेस्ला का प्लांट लगाने के लिए आंध्र प्रदेश सरकार ने किया आमंत्रित, जानें कौन-कौन है रेस में?

आंध्र प्रदेश सरकार (Andhra Pradesh Government) ने अमेरिका की दिग्गज इलेक्ट्रिक वाहन निर्माता कंपनी टेस्ला (Electric vehicle manufacturer Tesla) को राज्य में अपना मैन्युफेक्चरिंग प्लांट लगाने के लिए आमंत्रित किया है। इस बारे में प्रस्ताव भेजे हैं।

By आराधना शर्मा 
Updated Date

नई दिल्ली। आंध्र प्रदेश सरकार (Andhra Pradesh Government) ने अमेरिका की दिग्गज इलेक्ट्रिक वाहन निर्माता कंपनी टेस्ला (Electric vehicle manufacturer Tesla) को राज्य में अपना मैन्युफेक्चरिंग प्लांट लगाने के लिए आमंत्रित किया है। इस बारे में प्रस्ताव भेजे हैं।

पढ़ें :- भाजपा उम्मीदवार जस्टिस अभिजीत गंगोपाध्याय के खिलाफ चुनाव आयोग का बड़ा एक्शन,अगले 24 घंटे तक प्रचार पर लगाई रोक

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक सूत्रों का कहना है कि टेस्ला के प्रबंधन को पहले ही दो ईमेल भेजे जा चुके हैं। जिसमें उनकी टीम को उनके प्लांट के जगह के लिए उपयुक्त स्थल का निरीक्षण करने के लिए आमंत्रित किया गया है। चूंकि टेस्ला के संस्थापक एलन मस्क (Elon Musk) की 22 अप्रैल को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) से मुलाकात होनी है। इसलिए राज्य सरकार ने इस प्रतिष्ठित परियोजना को हासिल करने के अपनी कोशिशों को तेज कर दिया है।

इसके अलावा, राज्य ने टेस्ला को सूचित किया है कि उसके पास विभिन्न जिलों में पर्याप्त भूमि हैं। अगर टेस्ला निजी जमीन अधिग्रहण करना चाहती है तो सरकार ने मदद की भी पेशकश की। रिपोर्ट के मुताबिक एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि हमने टेस्ला को राज्य का दौरा करने और उनके प्लांट के लिए आवश्यक स्थलों को देखने के लिए आमंत्रित किया है। हम उनकी प्रतिक्रिया का इंतजार कर रहे हैं। चूंकि हमारे पास सभी जिलों में भूमि बैंक हैं, इसलिए हम उन्हें जमीन की पेशकश कर रहे हैं जहां वे अपना प्लांट स्थापित करना चाहते हैं। हालांकि, चेन्नई, बंगलूरू और कृष्णापत्तनम बंदरगाह (Krishnapatnam Port)  की निकटता को ध्यान में रखते हुए, हमने अनंतपुर जिले (Anantapur District) में किआ प्लांट में भूमि का प्रस्ताव दिया है, जो बंगलूरू के करीब है। अगर वे चेन्नई और कृष्णापत्तनम बंदरगाह (Krishnapatnam Port) के करीब रहना चाहते हैं तो नायडुपेट और श्री सिटी के पास।

अधिकारी ने बताया कि अगर टेस्ला की कोई टीम राज्य में आती है और अपनी जरूरतों के लिए हिसाब से कोई उपयुक्त जगह चुनती है, तो सरकार उन्हें जमीन देने के लिए तैयार है। भले ही इसका मतलब निजी पार्टियों से इसे खरीदना हो। टेस्ला की टीमों के आम चुनाव के बाद आंध्र प्रदेश आने की उम्मीद है। यह उम्मीद है कि प्लांट के लिए 2,500 एकड़ से ज्यादा जमीन की जरूरत है। हालांकि, अधिकारी का मानना था कि हालांकि मस्क प्रधानमंत्री से मुलाकात करेंगे। लेकिन आदर्श आचार संहिता (Model Code of Conduct) के कारण टेस्ला मैन्युफेक्चरिंग प्लांट (Tesla Manufacturing Plant) के लिए जगह के बारे में बातचीत का नतीजा सामने नहीं आएगा।

इसके अनुसार, चुनाव पूरा होने तक टेस्ला की टीमों द्वारा प्लांट के लिए जगहों की तलाश करने के लिए कोई दौरे नहीं किए जा सकते हैं। दरअसल, आंध्र प्रदेश सरकार ने 2021 और 2022 में टेस्ला के संस्थापक को राज्य में अपना कारोबार स्थापित करने के लिए आमंत्रित किया था। और अब भारत में मस्क की यात्रा के बारे में जानने के बाद एक बार फिर से प्रतिष्ठित परियोजना को हासिल करने के प्रयासों को तेज कर दिया है।

पढ़ें :- BJP सांसद जयंत सिन्हा को पार्टी ने जारी किया कारण बताओ नोटिस? दो दिन के भीतर मांगा जवाब

खबरों के मुताबिक, ऐसा पता चला है कि आंध्र प्रदेश के अलावा, महाराष्ट्र, गुजरात, तमिलनाडु और तेलंगाना राज्य सरकारें टेस्ला की प्लांट (Tesla Plant) अपने यहां लगाने के लिए एक-दूसरे के साथ होड़ कर रही हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...