1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. Rape की कोशिश करने वाले शख्स को अदालत ने सुनाई होश उड़ाने वाले सजा, 6 महीने तक करना होगा ये काम

Rape की कोशिश करने वाले शख्स को अदालत ने सुनाई होश उड़ाने वाले सजा, 6 महीने तक करना होगा ये काम

एक महिला के साथ छेड़खानी और दुष्कर्म के प्रयास के आरोपित को यहां की एक निचली अदालत ने इस शर्त पर जमानत दी कि वह रिहा होने के बाद गांव की सभी महिलाओं के कपड़े साफ करेगा। साथ ही आयरन कर उन्हें वापस करेगा।

By आराधना शर्मा 
Updated Date

झंझारपुर: देश का कोई भी कोना हो आज के टाइम में महिलाएं बच्चियां कहीं भी सेफ नहीं है। दरअसल, एक महिला के साथ छेड़खानी और दुष्कर्म के प्रयास (rape attempts) के आरोपित को यहां की एक निचली अदालत ने इस शर्त पर जमानत (Bail on Condition) दी कि वह रिहा होने के बाद गांव की सभी महिलाओं के कपड़े साफ करेगा। साथ ही आयरन कर उन्हें वापस करेगा।

पढ़ें :- Rape Case : शाहनवाज हुसैन को कोर्ट से 'सुप्रीम' राहत, हाईकोर्ट के FIR दर्ज करने के आदेश पर रोक

आपको बता दें, 20 वर्षीय युवक ललन कुमार की जमानत अर्जी पर सुनवाई के बाद एडीजे अविनाश कुमार (ADJ Avinash Kumar) ने अपने आदेश में महिलाओं को सम्मान देने की सीख भी दी। ललन कपड़े धोने के पेशे से जुड़ा रहा है। कोर्ट से जारी आदेश के मुताबिक ललन को रिहा होने के 6 माह तक मुफ्त में गांव की महिलाओं के कपड़े धोने होंगे।

किया था दुष्कर्म का प्रयास

ललन 19 अप्रैल 2021 से हिरासत में है। उस पर 17 अप्रैल की रात गांव की एक महिला के साथ अभद्र व्यवहार और दुष्कर्म के प्रयास का आरोप है। लौकहा थाना प्रभारी संतोष कुमार मंडल ने बताया है कि 17 अप्रैल की रात आरोपित युवक ने गांव की एक महिला के साथ छेड़खानी व दुष्कर्म का प्रयास किया था। पीड़िता के बयान पर 18 अप्रैल को प्राथमिकी दर्ज की गई थी।

पुलिस ने 19 अप्रैल को ही आरोपित युवक को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। इस पर सुनवाई के बाद एडीजे अविनाश कुमार (प्रथम) ने अपने आदेश में उसे 6 माह तक कपड़े धोने की सजा दी। कोर्ट ने उसके कामकाज पर नजर रखने का भी निर्देश दिया।

पढ़ें :- सुप्रीम कोर्ट जज का पीड़िता से सवाल- आखिर रात आठ बजे होटल के कमरे में क्यूं गईं
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...