HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. ये सिर्फ इमारतों और योजनाओं के नाम बदल सकते हैं, कोई काम नहीं कर सकते…कांग्रेस अध्यक्ष का पीएम मोदी पर निशाना

ये सिर्फ इमारतों और योजनाओं के नाम बदल सकते हैं, कोई काम नहीं कर सकते…कांग्रेस अध्यक्ष का पीएम मोदी पर निशाना

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे अमेठी में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि, नरेंद्र मोदी पूछते हैं-कांग्रेस ने 55 साल में क्या किया? कांग्रेस ने 55 साल में क्या किया, हम उसकी लिस्ट दे देंगे। आप अपने 10 साल का हिसाब दीजिए। नरेंद्र मोदी ने कभी 15 लाख रुपए देने की बात की तो कभी 2 करोड़ नौकरियां देने की.. लेकिन किया कुछ भी नहीं। नरेंद्र मोदी सिर्फ झूठ बोलते हैं। वो 'झूठों के सरदार' हैं।

By शिव मौर्या 
Updated Date

अमेठी। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे अमेठी में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि, नरेंद्र मोदी पूछते हैं-कांग्रेस ने 55 साल में क्या किया? कांग्रेस ने 55 साल में क्या किया, हम उसकी लिस्ट दे देंगे। आप अपने 10 साल का हिसाब दीजिए। नरेंद्र मोदी ने कभी 15 लाख रुपए देने की बात की तो कभी 2 करोड़ नौकरियां देने की.. लेकिन किया कुछ भी नहीं। नरेंद्र मोदी सिर्फ झूठ बोलते हैं। वो ‘झूठों के सरदार’ हैं।

पढ़ें :- जनता संविधान और लोकतंत्र की रक्षा के लिए खड़ी हो गई है और भाजपा को हरा रही है : राहुल गांधी

उन्होंने आगे कहा कि, नरेंद्र मोदी, जनता को गुमराह करने वाले राजा हैं। ये सिर्फ इमारतों और योजनाओं के नाम बदल सकते हैं, कोई काम नहीं कर सकते। अमेठी में किशोरी लाल शर्मा जी की तरफ से ये चुनाव खुद जनता लड़ रही है। जब जनता खुद लड़ती है तो कामयाबी पक्की हो जाती है। साथ ही कहा, जनता ने झूठे वादों के खिलाफ सत्य, सेवा और निष्ठा को जीत दिलाने की ठान ली है। हम प्रचंड जीत के साथ INDIA की सरकार बनाने जा रहे हैं।

राहुल गांधी रायबरेली के शेर हैं
वहीं, इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष ने रायबरेली में कहा कि, राहुल गांधी जी रायबरेली के शेर हैं, गरीबों के लिए लड़ने वाले सिपाही हैं। रायबरेली को फिरोज गांधी जी से लेकर इंदिरा गांधी जी, सोनिया गांधी जी सभी ने संभाला है। अब राहुल जी संभाल रहे हैं। वे कहते हैं कि रायबरेली हमारी कर्मभूमि है, हम यहीं से लड़ेंगे और यहीं पर अपने लोगों का मार्गदर्शन करेंगे।

इसके साथ ही कहा, गांधी परिवार सत्ता के लिए नहीं लड़ रहा है। अगर सत्ता के लिए लड़ते तो 2004-2009 में सोनिया गांधी जी देश की प्रधानमंत्री बन जातीं। लेकिन उन्होंने कहा-मैं प्रधानमंत्री नहीं बनना चाहती, मैं सिर्फ देश की सेवा करना चाहती हूं। लेकिन आज देश में सत्ता के लिए लड़ने वाले लोग हैं।

पढ़ें :- नफ़रत की राजनीति से ऊब चुका यह देश अब अपने मुद्दों पर वोट कर रहा है: राहुल गांधी
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...