1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. यूपी: 11 लाख ग्रामीणों को मिला आवास का मालिकाना हक, सीएम बोले-संपत्ति विवादों पर लगेगा विराम

यूपी: 11 लाख ग्रामीणों को मिला आवास का मालिकाना हक, सीएम बोले-संपत्ति विवादों पर लगेगा विराम

उत्तर प्रदेश में स्वामित्व योजना (ownership plan) के तहत 11 लाख ग्रामीणों को उनके आवास का मालिकाना हक ​दिया गया है। सीएम योगी आदित्यनाथ  (CM Yogi Adityanath) ने घरौली प्रमाणा सौंपा है। इस दौरान उन्होंने कहा कि स्वामित्व योजना के अंतर्गत 11 लाख ग्रामीण आवासीय अधिकार अभिलेख (घरौनी) का ऑनलाइन वितरण किया।

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में स्वामित्व योजना (ownership plan) के तहत 11 लाख ग्रामीणों को उनके आवास का मालिकाना हक ​दिया गया है। सीएम योगी आदित्यनाथ  (CM Yogi Adityanath) ने घरौली प्रमाणा सौंपा है। इस दौरान उन्होंने कहा कि स्वामित्व योजना के अंतर्गत 11 लाख ग्रामीण आवासीय अधिकार अभिलेख (घरौनी) का ऑनलाइन वितरण किया।

पढ़ें :- Lucknow News : स्वतंत्रता दिवस पर तिरंगा यात्रा के दौरान दो गुटों में पत्थरबाजी, पुलिस बोली- स्थिति नियंत्रण में

घरौनी वितरण से संपत्ति संबंधी विवादों पर विराम लगेगा और व्यक्ति प्रमाणित दस्तावेज से बैंक लोन आदि प्राप्त कर सकेगा। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि, अब गड़बड़ करके एक जमीन को कई लोगों को नहीं बेंच पाएंगे। जमीन के दस्तावेज होने से अब बैंक लोन भी आसानी से मिल जाएगा। सीएम (Cm Yogi) ने कहा कि, राजस्व विभाग और स्टांप रजिस्ट्रेशन विभाग को मिलकर यह देखना चाहिए कि जो व्यक्ति जमीन बेच रहा है यह जमीन उसके नाम है भी या नहीं।

पढ़ें :- UP ATS : सहारनपुर से जैश आतंकी गिरफ्तार, नूपुर शर्मा की हत्या का मिला था टास्क

साथ ही कहा कि, मैं राजस्व परिषद से कहूंगा कि प्राथमिकता के आधार पर लैंड रिकॉर्ड्स को डिजिटाइज करें। सुनिश्चित करें कि अब 06 साल की खतौनी के इंतजार को समाप्त करते हुए जब किसी व्यक्ति के द्वारा जमीन बेची जा रही है, उसी समय उसका नाम खतौनी में दर्ज कराने का प्रावधान भी करें।

बता दें कि, अभिलेखों को तैयार करने के लिए 1,10,313 ग्रामों को चिह्नित किया गया है। स्वामित्व योजना के तहत 20 जून तक प्रदेश के कुल 68641 ग्रामों में ड्रोन सर्वे का कार्य पूरा कर लिया गया है। 23287 ग्रामों में कुल 3428305 घरौनियां तैयार हो चुकी हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...