1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. UP Elections 2022 : मायावती बोली- मोदी जी क्या देश कभी बैंक घोटालों से मुक्त होगा?

UP Elections 2022 : मायावती बोली- मोदी जी क्या देश कभी बैंक घोटालों से मुक्त होगा?

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के बीच बहुजन समाज पार्टी (BSP) सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा कि देश में लम्बे समय से भयंकर गरीबी, बेरोजगारी, कमर तोड़ महंगाई आदि की मार झेल जनता झेल रही है। इस दौरान लोगों के लिए रोजी-रोजगार की कोई अच्छी खबर आने के बजाय, करीब 23 हजार करोड़ रुपए के सबसे बड़े बैंक घोटाले की खबर बेचैनी व आक्रोश बढ़ाने वाली है। मायावती ने मोदी सरकार पर सवाल उठाते हुए कहा कि क्या देश कभी बैंक घोटालों से मुक्त होगा?

By संतोष सिंह 
Updated Date

 

पढ़ें :- सीएम योगी समेत इन नेताओं ने दी जीत पर बधाई, कहा-कल्याणकारी योजनाओं एवं विकास मॉडल पर विश्वास की लगी मुहर

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के बीच बहुजन समाज पार्टी (BSP) सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने मंगलवार को ट्वीट कर कहा कि देश में लम्बे समय से भयंकर गरीबी, बेरोजगारी, कमर तोड़ महंगाई आदि की मार झेल जनता झेल रही है। इस दौरान लोगों के लिए रोजी-रोजगार की कोई अच्छी खबर आने के बजाय, करीब 23 हजार करोड़ रुपए के सबसे बड़े बैंक घोटाले की खबर बेचैनी व आक्रोश बढ़ाने वाली है। मायावती ने मोदी सरकार पर सवाल उठाते हुए कहा कि क्या देश कभी बैंक घोटालों से मुक्त होगा?

पढ़ें :- रामपुर व आजमगढ़ सदर लोकसभा सीट पर खिला कमल, योगी ने जताया जनता का आभार

मायावती ने सवाल उठाते हुए कहा कि ताज़ा बैंक घोटाले में किसी घोटालेबाज की अब तक गिरफ्तारी नहीं होने से भी लोगों के मन में अनेकों प्रकार के संदेह पैदा हो रहे हैं जो कि स्वाभाविक प्रतिक्रिया है। उन्होंने कहा कि इसीलिए केन्द्र सरकार इस जन आशंका को भी दूर करे कि बैंकों में जमा लोगों की कमाई वाकई सुरक्षित है और रहेगी?

बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती (Mayawati) ने में दलित युवा लडकी का अपहरण कर उसकी नृशंस हत्या की घटना को लेकर सरकार पर बड़ा हमला बोला है। उन्होंने इस मामले में पुलिस की कार्यशैली पर भी सवाल उठाया। साथ ही पीड़ित परिवार से मुलाकात की और पीड़ित परिवार को भरोसा दिलाया कि संकट के समय बसपा उनके साथ है। बता दें कि, मायावती ने सोमवार सुबह इसके बारे में जानकारी दी है।

पढ़ें :- गोमती रिवर फ्रंट घोटाला: दो पूर्व मुख्य सचिव आलोक रंजन और दीपक सिंघल पर कसेगा शिकंजा, सीबीआई ने जांच के लिए मांगी मंजूरी

उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि, ‘उन्नाव में दलित युवा लडकी का अपहरण कर उसकी नृशंस हत्या के संगीन मामले में पीड़ित परिवार के लोग समुचित न्याय की तलाश में कल रात लखनऊ आकर मुझसे मिले और अपनी दुःख भरी व्यथा सुनाई, जिससे स्पष्ट है कि सपा नेता के बेटे सहित लोकल पुलिस भी पूरी तरह से इसके लिए जिम्मेदार है।’

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि, ‘उन्नाव पुलिस अगर पीड़ित परिवार की शिकायत का समय से संज्ञान ले लेती तो यह घटना नहीं होती। सरकार दोषी पुलिस वालों को बर्खास्त करे तथा उनके खिलाफ सख्त धाराओं में मुकदमा दर्ज करके उन्हें जेल भेजे। साथ ही गरीब पीड़ित परिवार की उचित कानूनी पैरवी की व्यवस्था करे, बीएसपी की यह मांग।’

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...