1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. UP News: बिखर रहा सपा का कुनबा, चुनाव में हार के बाद जानिए क्यों अकेले पड़ते जा रहे अखिलेश यादव?

UP News: बिखर रहा सपा का कुनबा, चुनाव में हार के बाद जानिए क्यों अकेले पड़ते जा रहे अखिलेश यादव?

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में मिली कारारी हार के बाद समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। चुनाव के बाद उन्हें लगातार अपनों की नाराजगी देखने को मिल रही है। सपा अध्यक्ष ने जयंत चौधरी, ओपी राजभर, चाचा शिवपाल यादव के साथ गठबंधन करके चुनाव लड़ा था।

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में मिली कारारी हार के बाद समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। चुनाव के बाद उन्हें लगातार अपनों की नाराजगी देखने को मिल रही है। सपा अध्यक्ष ने जयंत चौधरी, ओपी राजभर, चाचा शिवपाल यादव के साथ गठबंधन करके चुनाव लड़ा था।

पढ़ें :- बेसिक शिक्षा विभाग ने निपुण भारत मिशन प्रचार-प्रसार के लिये जारी किये  आवश्यक निर्देश 

वहीं, इस चुनाव के बाद से अखिलेश (Akhilesh Yadav) लगातार अकेले पड़ते दिख रहे हैं। चाचा शिवपाल यादव ​की राहें फिर से अलग हो गईं हैं। कहा जा रहा है कि जल्द ही वो भाजपा में शामिल हो जाएंगे। इसके साथ ही आजम खान का खेमा भी नाराज चल रहा है। आजम खान सपा के सबसे बड़े मुस्लिम चेहरा हैं लेकिन अब वो भी नाराज चल रहे हैं।

ऐसे में अब अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। रामपुर के सपा के मीडिया प्रभारी फसाहत अली खान ने सीधे अखिलेश यादव पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि मुस्लिमों को जब जेल भेजा गया और उनकी संपत्तियां जब्त की गईं तो अखिलेश यादव चुप बैठे रहे। उनका यह भी कहा है कि सपा ने 111 सीटें मुसलमानों के ही वोटों से जीती हैं। इसके बाद भी अखिलेश चुप बैठे हुए हैं।

गठबंधन में पड़ सकती है दरार
बता दें कि, समाजवादी पार्टी ने चुनाव के दौरान छोटे छोटे दलों से गठबंधन किया था। इसमें चाचा शिवपाल यादव की प्रसपा, ओमप्रकाश राजभर की सुभासपा, जयंत चौधरी की राष्ट्रीय लोकदल, केशव देव मौर्य के महान दल समेत अन्य छोटे दलों से गठबंधन किया था। चुनाव में हार के बाद गठबंधन में दार के संकेत मिलने शुरू हो गए हैं। शिवपाल यादव बागी हो गए हैं। सूत्रों की माने तो इस गठबंधन में जल्द ही दरार देखने को मिल सकती है।

पढ़ें :- उप्र माध्यमिक संस्कृत शिक्षा परिषद की पूर्व मध्यमा से उत्तर मध्यमा स्तर तक की परीक्षाओं का कैलेण्डर जारी
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...