HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. जब लोकतांत्रिक संस्थाओं पर कब्जा कर लिया जाता है तो….राहुल गांधी ने साधा निशाना

जब लोकतांत्रिक संस्थाओं पर कब्जा कर लिया जाता है तो….राहुल गांधी ने साधा निशाना

लोकसभा चुनाव के बाद एक बार फिर ईवीएम का मुद्दा गरमाने लगा है। ये मुद्दा दुनिया के सबसे अमीर शख्स एलन मस्क के एक बयान के बाद सुर्खियों में आया। अब कांग्रेस सांसद राहुल गांधी इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) की विश्वसनीयता पर सवाल उठाया है।उन्होंने चुनाव आयोग से ईवीएम और प्रक्रियाओं की पूर्ण पारदर्शिता सुनिश्चित करने या उन्हें समाप्त करने की मांग की।

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के बाद एक बार फिर ईवीएम का मुद्दा गरमाने लगा है। ये मुद्दा दुनिया के सबसे अमीर शख्स एलन मस्क के एक बयान के बाद सुर्खियों में आया। अब कांग्रेस सांसद राहुल गांधी इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) की विश्वसनीयता पर सवाल उठाया है।उन्होंने चुनाव आयोग से ईवीएम और प्रक्रियाओं की पूर्ण पारदर्शिता सुनिश्चित करने या उन्हें समाप्त करने की मांग की।

पढ़ें :- नौकरशाहों के गलत फैसलों सरकार की छवि शिक्षक और कर्मचारी विरोधी बनी : बीजेपी एमएलसी देवेन्द्र प्रताप सिंह

राहुल गांधी ने एक्स पर लिखा कि, जब लोकतांत्रिक संस्थाओं पर कब्जा कर लिया जाता है, तो एकमात्र सुरक्षा चुनावी प्रक्रिया में निहित होती है जो जनता के लिए पारदर्शी होती है। ईवीएम फिलहाल एक ब्लैक बॉक्स है। EC को या तो मशीनों और प्रक्रियाओं की पूर्ण पारदर्शिता सुनिश्चित करनी चाहिए, या उन्हें समाप्त करना चाहिए।

इससे एक दिन पहले ही राहुल गांधी ने ईवीएम को लेकर सवाल खड़े किए थे। उन्होंने कहा कि,
भारत में ईवीएम एक “ब्लैक बॉक्स” हैं और किसी को भी उनकी जांच करने की अनुमति नहीं है। हमारी चुनावी प्रक्रिया में पारदर्शिता को लेकर गंभीर चिंताएं व्यक्त की जा रही हैं। जब संस्थानों में जवाबदेही की कमी हो जाती है तो लोकतंत्र एक दिखावा बन जाता है और धोखाधड़ी का शिकार हो जाता है।

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...