1. हिन्दी समाचार
  2. क्रिकेट
  3. T20 World Cup : टीम इंडिया ट्रॉफी जीतने की है प्रबल दावेदार, भारत के पक्ष में 2011 के विश्व कप का संयोग

T20 World Cup : टीम इंडिया ट्रॉफी जीतने की है प्रबल दावेदार, भारत के पक्ष में 2011 के विश्व कप का संयोग

T20 World Cup : T20 विश्वकप 2022 में भारत और पाकिस्तान की टीमें कुछ ऐसे ही संयोगों के मुहाने पर खड़ी हैं, जो सोशल मीडिया पर खूब चर्चा का विषय बन रही हैं। इन संयोगों पर गौर फरमाया जाए तो इस विश्वकप के फाइनल में न सिर्फ भारत पहुंच रहा है, बल्कि टीम को संयोग विजेता बनने का इशारा कर रहा है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

T20 World Cup : T20 विश्वकप 2022 में भारत और पाकिस्तान की टीमें कुछ ऐसे ही संयोगों के मुहाने पर खड़ी हैं, जो सोशल मीडिया पर खूब चर्चा का विषय बन रही हैं। इन संयोगों पर गौर फरमाया जाए तो इस विश्वकप के फाइनल में न सिर्फ भारत पहुंच रहा है, बल्कि टीम को संयोग विजेता बनने का इशारा कर रहा है।

पढ़ें :- Adani Group News: हिंडनबर्ग-अडानी ग्रुप मामले में सेबी का आया बयान, कहीं ये बाते

आइए जानते हैं कैसे भारत के पक्ष में 2011 के विश्व कप का संयोग?

2007 के विश्व कप में भारत और पाकिस्तान फाइनल में पहुंचे थे, जहां भारतीय टीम जीती थी। 2011 में भारत विश्व चैंपियन बना था। भारत के पक्ष में सबसे बड़ा संयोग 2011 के विश्वकप का है, जो अब तक 2022 के विश्वकप से मेल खा रहा है।

2011 और 2022 में भारत ने अभ्यास मैच में ऑस्ट्रेलिया को परास्त किया। दोनों ही जगह आयरलैंड ने इंग्लैंड को हराया। दोनों ही जगह भारत दक्षिण अफ्रीका से दो गेंद शेष रहते हारा। अब यह देखना होगा कि भारत 2022 में चैंपियन बनता है या नहीं। सेमीफाइनल में भारत का सामना इंग्लैंड से है।

ये संयोग भी भारत को बना रहे विजेता

पढ़ें :- हेमंत सोरेन सरकार पर बरसे अमित शाह, कहा-झारखण्ड में है सबसे भ्रष्ट सरकार, जनता आपको हटाने के लिए बैठी है तैयार

2007 के वनडे विश्वकप में भारत को बांग्लादेश के हाथों हार मिली। अगले 2011 के विश्वकप के पहले ही मैच में भारत ने बांग्लादेश को हराकर न सिर्फ बदला लिया बल्कि चैंपियन भी बना। इसी तरह 2021 में भारत को पाकिस्तान ने हराया। अगले 2022 के विश्वकप के पहले ही मैच में भारत ने पाकिस्तान को हराकर बदला लिया। अब भारत विजेता बनने से दो कदम दूर खड़ा है।

2011 के विश्वकप से ठीक पहले भारत के प्रमुख तेज गेंदबाज प्रवीण कुमार चोटिल होकर बाहर हो गए थे। उनकी जगह श्रीसंत शामिल हुए। 2022 में जसप्रीत बुमराह चोटिल हो गए और उनकी जगह मोहम्मद शमी को लिया गया। 2011 में भारत के ग्रुप में नीदरलैंड, बांग्लादेश और दक्षिण अफ्रीका शामिल थे। यहां भी ये तीनों भारत के ग्रुप में थीं।

2011 और 2022 विश्वकप में भारत

भारत ने ऑस्ट्रेलिया को अभ्यास मैच में हराया।

आयरलैंड ने इंग्लैंड को हराया।

पढ़ें :- UP News: अखिलेश यादव बोले-BJP के लोग कागज लेकर घूम रहे, टाई-सूट पहने लोगों से कर लेते हैं एमओयू

दक्षिण अफ्रीका ने दो गेंद शेष रहते भारत को हराया।

2011 में भारत विश्व चैंपियन बना।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...