1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. विधानसभा में केशव मौर्य की बात पर बिफरे अखिलेश पिता तक पहुंचे, सीएम योगी ने संभाला मोर्चा

विधानसभा में केशव मौर्य की बात पर बिफरे अखिलेश पिता तक पहुंचे, सीएम योगी ने संभाला मोर्चा

उत्तर प्रदेश विधानसभा सत्र में बुधवार को डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य (Deputy CM Keshav Prasad Maurya) और नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के बीच तीखी बहस हुई। नेता सदन और सीएम योगी को इसको देखते हुए मोर्चा संभालना पड़ा और उन्होंने माहौल को शांत कराया।

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा सत्र में बुधवार को डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य (Deputy CM Keshav Prasad Maurya) और नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के बीच तीखी बहस हुई। नेता सदन और सीएम योगी को इसको देखते हुए मोर्चा संभालना पड़ा और उन्होंने माहौल को शांत कराया। दरअसल, केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि सैफई की जमीन बेचकर सड़क बनाई थी। इस पर अखिलेश यादव बिफर गए और उन्होंने कहा कि क्या तुमने अपने पिता की जमीन बेचकर सड़क बनाई है।

पढ़ें :- Maharashtra Political Crisis: महाराष्ट्र में सियासी उठापटक पर बोले अखिलेश यादव-ये सत्ता की भूख का विषकाल

अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav)  के यह कहते ही दोनों तरफ से हंगामा शुरू हो गया। इस पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने मोर्चा संभाला और सबको मर्यादा में रहने की नसीहत दी। राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा के दौरान बुधवार को अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर जमकर ​हमले किए। इस पर डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य खड़े हुए और जवाब देने लगे। इस पर अखिलेश यादव बीच बीच में खड़े होकर टोकने लगे।

अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने केशव प्रसाद मौर्य के भाषण के बीच खड़े होकर उनसे पूछा कि वह (केशव) बताएं कि लोकभवन में कब बैठ पाएंगे। केशव ने जवाब दिया कि लोक भवन में कलम खिल गया है और खिला रहेगा। साइकिल पंक्चर ठीक हो गई है उसे यूपी की जनता ठीक नहीं करेगी।

इसके साथ ही अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) को जवाब देते हुए केशव मौर्य ने कहा कि, सड़क किसने बनाई है, एक्सप्रेस वे किसने बनाई है, मेट्रो किसने बनाई है, ऐसा लगता है कि आपने सैफई की जमीन बेचकर आपने यह सब बना दिया है। ये सुनते ही अखिलेश यादव बिफर गए और उन्होंने कहा कि तुम पिता जी से पैसा लाते हो यह बनाने के लिए। राशन बांटा है तो पिताजी से पैसा लाए हो। अखिलेश के इतना कहते ही दोनों ओर के विधायक खड़े हो गए और हंगामा होने लगा।

 

पढ़ें :- By-elections 2022: आजमगढ़ और रामपुर में 23 जून को डाले जाएंगे वोट, थम गया चुनाव प्रचार

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...