1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. Amarnath Yatra 2022: ‘हर हर महादेव’ के नारों के बीच, उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने तीर्थयात्रियों के पहले जत्थे को झंडी दिखाकर रवाना किया

Amarnath Yatra 2022: ‘हर हर महादेव’ के नारों के बीच, उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने तीर्थयात्रियों के पहले जत्थे को झंडी दिखाकर रवाना किया

सनातन धर्म की पवित्र शिव यात्रा श्री अमरनाथ यात्रा में श्रद्धालु पूरी श्रद्धा और आस्था के शिव धाम पहुंचते है। वर्षों से चली आ रही यह दुर्गम यात्रा इस बार 30 जून यानी कल से शुरू होने जा रही है।

By अनूप कुमार 
Updated Date

Amarnath Yatra 2022: सनातन धर्म की पवित्र शिव यात्रा श्री अमरनाथ यात्रा में श्रद्धालु पूरी श्रद्धा और आस्था के शिव धाम पहुंचते है। वर्षों से चली आ रही यह दुर्गम यात्रा इस बार 30 जून यानी कल से शुरू होने जा रही है। हिमालय की गोद में स्थित बाबा अमरनाथ धाम की पवित्र गुफा में भगवान शिव शिवलिंग के रूप में विराजमान हैं।अमरनाथ यात्रा 2022: ‘हर हर महादेव’ के नारों के बीच, जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने तीर्थयात्रियों के पहले जत्थे को झंडी दिखाकर रवाना किया।अमरनाथ यात्रा दो साल के अंतराल के बाद 30 जून से शुरू हो रही है।

पढ़ें :- Amarnath Yatra 2022 : खराब मौसम के कारण बाबा अमरनाथ यात्रा स्थगित, आधार शिविरों से आगे बढ़ने की अनुमति नहीं

अमरनाथ गुफा की लंबाई 19 मीटर और चौड़ाई 16 मीटर है। गुफा लगभग 150 फीट क्षेत्र में फैली हुई है और लगभग 11 मीटर ऊंची है। इस गुफा का महत्व सिर्फ प्राकृतिक शिवलिंग के निर्माण से नहीं, बल्कि यहां भगवान शिव ने देवी पार्वती को अमरत्व की कहानी सुनाई थी। मान्यता है कि भगवान शिव साक्षात् अमरनाथ गुफा में विराजमान रहते हैं। इस गुफा में स्थित पार्वती पीठ 51 शक्तिपीठों में से एक है। माना जाता है कि यहां देवी सती का कंठ भाग गिरा था।

पढ़ें :- Amarnath Yatra 2022: अमरनाथ हादसे में लातपा लोगों की खोज जारी, अभी तक 15 श्रद्धालुओं की मौत

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...