HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. गुस्से को करना है शांत, तो करें हर मंगलवार हनुमान जी का गुणगान

गुस्से को करना है शांत, तो करें हर मंगलवार हनुमान जी का गुणगान

जब कभी भी हमें गुस्सा आता है। तो सामने वाले से ज्यादा नुकसान खुद को उठाना पड़ता है जयादा परेशान नहीं हो और करे हनुमान जी की पूजा गुस्से पे काबू पाने के लिए सबसे लाभकारी उपाए साबित हो सकती है।

By प्रीति कुमारी 
Updated Date

हनुमान जी की पूजा करने से हमारी सारी परेशानिया दूर हो जाती है। ऐसी मान्यता है कि भगवान हनुमान बहुत जल्द प्रसन्न होने वाले देवता हैं। उनकी पूजा पाठ में ज्यादा कुछ करने की जरूरत नहीं होती।अपने भक्तों पर आने वाले तमाम तरह के कष्टों और परेशानियों को दूर करते हैं। ऐसी मान्यता है, कि भगवान हनुमान बहुत जल्द प्रसन्न होने वाले देवता हैं। मंगलवार को उनकी पूजा के बाद अमृतवाणी और श्री हनुमान चालीसा का पाठ करने से बजरंगबली खुश होते हैं। कोरोना काल में जिंदगी में चिंताएं बहुत अधिक हैं और शांति कम,लोग धैर्य और सहनशक्ति खोते जा रहे हैं। और यही कारण है, कि लोगों का गुस्सा बढ़ रहा है, इसलिए जरूरी है कि इस पर काबू पाया जाए। इसके लिए मंगलवार के दिन हनुमान जी की पूजा बेहद लाभदायक साबित हो सकती है। मंगलवार के दिन हनुमान जी के निमित्त कुछ विशेष उपाय किए जाए तो निश्चित रूप से लाभ मिलता है। वैसे तो आप हनुमान चालीसा का पाठ प्रतिदिन कर सकते हैं लेकिन मंगलवार के दिन जरूर करें। इसके लिए सुबह नहा धोकर मंदिर में आसन बिछाए और हनुमान चालीसा पढ़ें। इससे आपका मन शांत होगा और तमाम बुरे विचार मन से दूर होंगे।

पढ़ें :- Sawan 2024 Vrat Festivals : सावन में पड़ेंगे ये व्रत-त्योहार , देंखे पूरी लिस्ट

दिन के दोनों पहर में सुंदर कांड का पाठ करें और विधि विधान से पूजा करें, हम अपने मन को शांत कर सकते है। इससे हमें लाभ मिलेगा.बजरंगबली को सिंदूरी चोला चढ़ाकर आसानी से खुश किया जा सकता है और उनकी कृपा प्राप्त की जा सकती है। मंगलवार के दिन उन्हें चोला चढ़ाकर केवल क्रोध पर ही काबू नहीं पाया जा सकता बल्कि अन्य परेशानियां भी जीवन से दूर की जा सकती हैं।

सारे कष्‍ट करने है दूर तो करें मंगलवार को इस विधि से हनुमान जी की पूजा

हर मंगलवार तुलसी के पत्ते पर सिंदूर से श्रीराम लिखकर हनुमान जी के चरणों में अर्पित करने चाहिए। इससे मन और मस्तिष्क काफी शांत रहता है।और कलह कलेश और नकारात्मक विचार मन में नहीं आते है। हनुमान जी को सिंदूर, वस्त्र आदि चढ़ाने के बाद पूजास्थल की ठीक से एक बार और सफाई करें और अगरबत्ती, धूप चढ़ाएं. उसके बाद हनुमान जी को गेंदे की फूल की माला चढ़ाएं और पुष्प के साथ गुड़ चने का भोग लगाएं, माना जाता है कि सूर्योदय के बाद हनुमान जी की पूजा करने से वह जल्द प्रसन्न होते है. मंगलवार को मंगल ग्रह का दिन भी माना जाता है। इस दिन हनुमान जी की विधि विधान से पूजा करने से सभी मनोकामनाएं पूर्ण हो जाती है

पढ़ें :- Guru Purnima 2024 : गुरु शिष्य परंपरा का पालन पौराणिक काल से हो रहा है , विद्या और ज्ञान का संगम है
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...