HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. सपा सांसद आजम खान के फेफड़ों में बढ़ा संक्रमण, उनके बेटे की हालत में सुधार

सपा सांसद आजम खान के फेफड़ों में बढ़ा संक्रमण, उनके बेटे की हालत में सुधार

समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान की हालत नाजुक बनी हुई है। अब उन्हें पहले से ज्यादा ऑक्सीजन देने की जरूरत पड़ रही है। जबकि उनके बेटे की हालत में सुधार बताया जा रहा है। करीब सवा साल से कई मामलों में सीतापुर की जेल में बंद सपा सांसद आजम खान की कोरोना वायरस की चपेट में आने के बाद रविवार को अचानक हालत बिगड़ गई थी। जिसके बाद उन्हें मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया है। 

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान की हालत नाजुक बनी हुई है। अब उन्हें पहले से ज्यादा ऑक्सीजन देने की जरूरत पड़ रही है। जबकि उनके बेटे की हालत में सुधार बताया जा रहा है।  करीब सवा साल से कई मामलों में सीतापुर की जेल में बंद सपा सांसद आजम खान की कोरोना वायरस की चपेट में आने के बाद रविवार को अचानक हालत बिगड़ गई थी। जिसके बाद उन्हें मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

पढ़ें :- परिजनों की डांट से क्षुब्ध होकर युवती ने नदी में लगाई छलांग, तलाश जारी

आजम खान और उनके बेटे अब्दुल्ला को भी तबीयत खराब होने पर रविवार शाम को शहीद पथ स्थित मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां सपा सांसद आजम खान को चार लीटर प्रति घंटे की दर से ऑक्सीजन दिया जा रहा था।  रात में ही सिटी स्कैन व अन्य जांच कराई गई। सपा सांसद के फेफड़े में गंभीर संक्रमण पाया गया है। जबकि उनके बेटे अब्दुल्ला की स्थिति ठीक है। मेदांता अस्पताल के मेडिकल डायरेक्टर राकेश कपूर ने बताया कि सांसद आजम खान के फेफड़े में गंभीर संक्रमण है।

सोमवार से उन्हें 10 लीटर प्रति घंटे की दर से ऑक्सीजन की जरूरत पड़ रही है। उन्हें कोविड आईसीयू में रखा गया है। क्रिटिकल केयर विशेषज्ञों की टीम पल-पल की निगरानी कर रही है। सांसद के बेटे मोहम्मद अब्दुल्ला खान की स्थिति संतोषजनक है, लेकिन उन्हें भी डॉक्टरों की निगरानी में रखा गया है।

केजीएमयू में खुद को सुरक्षित नहीं मान रहे थे आजम

जिला प्रशासन आजम और अब्दुल्ला को लखनऊ केजीएमयू में भर्ती कराना चाह रहा था, लेकिन आजम यहां भर्ती नहीं होना चाह रहे थे। जेलर आरएस यादव के मुताबिक, आजम केजीएमयू में खुद को सुरक्षित नहीं मान रहे थे। इसलिए वह मेदांता में भर्ती होना चाहते थे। पहले मेदांता में बात की गई, लेकिन वहां बेड की किल्लत थी। बड़ी मुश्किल से बेड की व्यवस्था होने के बाद यहां भर्ती कराया गया।

पढ़ें :- यूपी सरकार और संगठन के बीच बढ़ी तकरार, दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री सोनम किन्नर ने अपने पद से दिया इस्तीफा

दो इंस्पेक्टर सुरक्षा में लगे

सीओ सिटी पीयूष सिंह ने बताया कि आजम खान, अब्दुल्ला की सुरक्षा के लिए मेदांता में पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। उन्हें कोई समस्या न हो, इसलिए जिले से दो इंस्पेक्टरों की ड्यूटी लगाई गई है। ये इंस्पेक्टर शिफ्ट वाइज बदलते रहेंगे। इसके अलावा पुलिस लाइंस की एक गार्द भी मेदांता अस्पताल में तैनात की गई है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...