1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. CM Yogi बोले- सरकारी कार्यालयों में लागू करें ‘Citizen Charter’, अधिकारी 3 दिन से अधिक न लटकाएं फाइल

CM Yogi बोले- सरकारी कार्यालयों में लागू करें ‘Citizen Charter’, अधिकारी 3 दिन से अधिक न लटकाएं फाइल

CM yogi Adityanath: यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने बुधवार को सरकारी अधिकारियों को सभी कार्यालयों में नागरिक चार्टर (Citizen Charter) को लागू करने और तीन दिनों से अधिक समय तक किसी भी फाइल को लंबित नहीं रखने का निर्देश दिया है। उन्होंने जोर देकर कहा कि शासकीय कार्यालयों में हर अधिकारी व कर्मचारी की समय से उपस्थिति होनी सुनिश्चित की जाए।

By संतोष सिंह 
Updated Date

CM yogi Adityanath: यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने बुधवार को सरकारी अधिकारियों को सभी कार्यालयों में नागरिक चार्टर (Citizen Charter) को लागू करने और तीन दिनों से अधिक समय तक किसी भी फाइल को लंबित नहीं रखने का निर्देश दिया है। उन्होंने जोर देकर कहा कि शासकीय कार्यालयों में हर अधिकारी व कर्मचारी की समय से उपस्थिति होनी सुनिश्चित की जाए।

पढ़ें :- ADR Report: जीत की हैट्रिक लगाने वाले सांसदों की संपत्ति में खूब हुआ इजाफा, वरुण गांधी की दौलत भी बढ़ी

‘लेटलतीफी स्वीकार नहीं ‘

सीएम योगी ने ट्वीट कर कहा कि शासकीय कार्यालयों में हर अधिकारी व कर्मचारी की समय से उपस्थिति होनी सुनिश्चित की जाए। लेटलतीफी कतई स्वीकार नहीं की जाएगी। वरिष्ठ अधिकारी द्वारा सतत औचक निरीक्षण करें। लापरवाह, लेटलतीफ अधिकारियों व कर्मचारियों के खिलाफ कठोरतम कार्रवाई की जाएगी।

किसी भी कार्यालय में कोई फाइल तीन दिनों से अधिक लंबित न रहे

उन्होंने कहा किआमजन की शिकायतों का त्वरित संज्ञान लेते हुए निस्तारण किया जाए। हर कार्यालय में सिटीजन चार्टर को प्रभावी रूप से लागू किया जाए। किसी भी कार्यालय में कोई फाइल तीन दिनों से अधिक लंबित न रहे। देरी होने पर जवाबदेही तय की जाए। योगी ने प्रदेश में नियमविरुद्ध संचालित अथवा अधोमानक वाले नर्सिंग कॉलेजों को चिह्नित कर उनके संचालकों के खिलाफ मामला दर्ज कर कठोरतम कार्रवाई के निर्देश दिए।

पढ़ें :- Money Laundering Case: राहुल गांधी के करीबी से ईडी ने की पूछताछ, जानिए क्या है पूरा मामला

बिना मान्यता के कॉलेज संचालकों पर होगा एक्शन

उन्होंने कहा कि बिना मान्यता के कॉलेज संचालन युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ करना है, ऐसी हर जानकारी अथवा शिकायत को पूरी गंभीरता से लेते हुए तत्परता से कार्रवाई की जाए।

गेहूं की सरकारी खरीद को बेहतर बनाएं

मुख्यमंत्री ने गेहूं की सरकारी खरीद को बेहतर बनाने के लिए क्रय केंद्रों का निरीक्षण करने के निर्देश दिए है। उन्होंने कहा कि हर किसान को न्यूनतम समर्थन मूल्य का लाभ मिले, हर हाल में किसान को उसके गेहूं का भुगतान तय समय-सीमा के भीतर हो जाना चाहिए। योगी ने सीमावर्ती कुछ राज्यों में कोविड के नये मामलों में बढोतरी का जिक्र करते हुए कहा कि ऐसे में सरहदी जिलों में विशेष सतर्कता बरती जाए।

पढ़ें :- Maharashtra Assembly By-Election 2023: महाराष्ट्र उपचुनाव को लेकर भाजपा ने घोषित किए उम्मीदवार, देखिए लिस्ट
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...