1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. स्मारक घोटाला: चार अधिकारियों पर विजिलेंस का शिकंजा, कई और अफसरों पर जल्द हो सकती है कार्रवाई

स्मारक घोटाला: चार अधिकारियों पर विजिलेंस का शिकंजा, कई और अफसरों पर जल्द हो सकती है कार्रवाई

मायावती सरकार में हुए स्मारक घोटाले में शामिल अफसरों के खिलाफ सतर्कता अधिष्ठान (विजिलेंस) की टीम ने कार्रवाई की है। विजिलेंस ने राजकीय निर्माण निगम के चार तत्कालीन अधिकारियों को गिरफ्तार किया है। इस मामले में राजधानी लखनऊ के गोमतीनगर थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। मायावती सरकार में हुए स्मारक घोटाले में शामिल अफसरों के खिलाफ सतर्कता अधिष्ठान (विजिलेंस) की टीम ने कार्रवाई की है। विजिलेंस ने राजकीय निर्माण निगम के चार तत्कालीन अधिकारियों को गिरफ्तार किया है। इस मामले में राजधानी लखनऊ के गोमतीनगर थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है।

पढ़ें :- नौतनवा:राजीव गांधी फार्मेसी कॉलेज में लाला लाजपत राय की मनाई गई जयंती 

सूत्रों की माने तो विजिलेंस की टीम जल्द ही राजकीय निर्माण निगम, एलडीए समेत अन्य विभागों के कई अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई कर सकती है। बता दें कि, यूपी में मायावती सरकार के दौरान 2007 से 2011 के दौरान लखनऊ और नोएडा में स्मारक बनाए गए।

इस दौरान जमकर लूट खसोट भी हुई, जिसकी जांच विजिलेंस कर रही है। इसी जांच के क्रम में शुक्रवार को विजिलेंस टीम ने वित्तीय परामर्शदाता विमलकांत मुद्गल, महाप्रबंधक तकनीकी एसके त्यागी, महाप्रबंधक सोडिक कृष्ण कुमार, इकाई प्रभारी कामेश्वर शर्मा को गिरफ्तार किया है।

इन चारों से टीम पूछताछ कर रही है। इस मामले आज कोर्ट में पेशी भी होनी है। गौरतलब है कि, मायावती सरकार में स्मारक घोटाल हुआ था। इसमें स्मारकों में लगे पत्थरों की खरीद में जमकर धांधली की गयी थी।

 

पढ़ें :- महराजगंज:एमएलसी चुनाव के मतदान स्थलों की तैयारियों का डीएम व एसपी ने लिया जायजा

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...