HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. Cyclone Tauktae का तांडव अभी थमा नहीं, जानें कब दस्तक देगा ‘Yaas’?

Cyclone Tauktae का तांडव अभी थमा नहीं, जानें कब दस्तक देगा ‘Yaas’?

भारत के कई राज्यों में चक्रवात 'ताउते' का तांडव अभी थमा नहीं है कि इसी बीच एक और चक्रवात की आहट ने लोगों को परेशानी में डाल दिया है। मौसम विभाग ने अपने ताजा अपडेट में कहा है कि 23-24 मई के आस-पास बंगाल की खाड़ी में एक लो प्रेशर दवाब विकसित होता दिख रहा है, जो कि साइक्लोन में तब्दील हो सकता है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। भारत के कई राज्यों में चक्रवात ‘ताउते’ का तांडव अभी थमा नहीं है कि इसी बीच एक और चक्रवात की आहट ने लोगों को परेशानी में डाल दिया है। मौसम विभाग ने अपने ताजा अपडेट में कहा है कि 23-24 मई के आस-पास बंगाल की खाड़ी में एक लो प्रेशर दवाब विकसित होता दिख रहा है, जो कि साइक्लोन में तब्दील हो सकता है। मौसम विभाग की नजर इस दवाब पर बनी हुई है। आईएमडी ने कहा है कि इस वक्त सारी परिस्थितियां बंगाल की खाड़ी और अरब सागर में चक्रवात के अनुकूल हैं और इसी वजह से तूफान आ रहे हैं।

पढ़ें :- IND vs ZIM: भारत ने जिम्बाब्वे को 10 विकेट से हराया, जायसवाल-गिल ने जड़े अर्धशतक

बंगाल की खाड़ी के ऊपर बन रहा है दवाब मौसम विभाग का कहना है कि बंगाल की खाड़ी के ऊपर समुद्र की सतह का तापमान लगभग 31 डिग्री सेल्सियस है। लगातार जलवायु परिवर्तन और समुद्र के बढ़ते ताप के कारण इस तरह के साइक्लोन आ रहे हैं। इस तूफान का नाम ‘यास’ है, जिसे कि ओमान ने दिया है।

‘ताउते’के चलते 19-20 मई को देश के कई राज्यों में भारी बारिश की संभावना

राजस्थान में भारी बारिश की आशंका ‘अत्यंत गंभीर चक्रवात’ तौकते का रूख अब राजस्थान की ओर हो गया है। सोमवार को उसने गुजरात में भारी तबाही मचाई है तो वहीं इससे पहले उसने केरल, कर्नाटक, गोवा और महाराष्ट्र में काफी नुकसान किया है। भारतीय मौसम विभाग ने अपने ताजा अपडेट में कहा है कि इस तूफान के कारण राजस्थान में भारी बारिश की आशंका है, इसी वजह से राज्य के 8 जिलों में अलर्ट जारी किया गया है।

‘ताउते’के चलते 19-20 मई को देश के कई राज्यों में भारी बारिश की संभावना है। दिल्ली, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, हरियाणा, चंडीगढ़, उत्तर प्रदेश और पंजाब में भारी बारिश का अलर्ट जारी है। नागौर के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

पढ़ें :- सात राज्यों में हुए उपचुनाव के नतीजों ने स्पष्ट कर दिया है कि भाजपा का बुना गया ‘भय और भ्रम’ का जाल टूट चुका है: राहुल गांधी

जानें क्या होते हैं चक्रवात?

बता दें कि लो एयर प्रेशर की वजह से वायुमंडल में व्याप्त गर्म हवा तेज आंधी में तब्दील हो जाती है, जिसे कि ‘चक्रवात’ कहा जाता है। भारत और दुनिया भर के तटीय इलाके हमेशा ‘चक्रवाती तूफानों’ से जूझते रहते हैं, इनके नाम जगह के हिसाब से अलग-अलग होते हैं, कहीं इन्हें साइक्लोन, कहीं ‘हरिकेन’ और कहीं ‘टाइफून’ कहा जाता है।

‘साइक्लोन’ की संज्ञा

भारत में तूफान हिंद या साउथ प्रशांत महासागर से आते हैं इस वजह से इन्हें ‘साइक्लोन’ की संज्ञा दी जाती है, जबकि नार्थ-ईस्ट सागर से आने वाले तूफान को हरिकेन और नार्थ-वेस्ट से आने वाले तूफान को ‘टायफून’ कहते हैं।

पढ़ें :- अगर प्रदेश की सड़कों पर डग्गामार या बिना प​रमिट के कोई बस चलती मिली तो अधिकारियों की खैर नहीं: सीएम
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...