HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. पर्दाफाश
  3. ‘मुझे स्मृति ईरानी पर तरस आती है क्योंकि वो अब राहुल के पीए से हारने वाली हैं,’ संजय राउत ने कसा तंज

‘मुझे स्मृति ईरानी पर तरस आती है क्योंकि वो अब राहुल के पीए से हारने वाली हैं,’ संजय राउत ने कसा तंज

Amethi Loksabha Seat : कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) इस बार वायनाड के अलावा रायबरेली से चुनाव लड़ने वाले हैं। वहीं, अमेठी से चुनाव न लड़ने को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी समेत भाजपा के तमाम नेता उन पर निशाना साध रहे हैं। इसी बीच शिवसेना (उद्धव गुट) के नेता संजय राउत (Sanjay Raut) ने केंद्रीय मंत्री और अमेठी से भाजपा उम्मीदवार स्मृति ईरानी (Smriti Irani) पर तंज कसा है। 

By Abhimanyu 
Updated Date

Amethi Loksabha Seat : कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) इस बार वायनाड के अलावा रायबरेली से चुनाव लड़ने वाले हैं। वहीं, अमेठी से चुनाव न लड़ने को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी समेत भाजपा के तमाम नेता उन पर निशाना साध रहे हैं। इसी बीच शिवसेना (उद्धव गुट) के नेता संजय राउत (Sanjay Raut) ने केंद्रीय मंत्री और अमेठी से भाजपा उम्मीदवार स्मृति ईरानी (Smriti Irani) पर तंज कसा है।

पढ़ें :- Video-द‍िल्‍ली मेट्रो सफर के बाद मीडिया से बोले राहुल गांधी, 4 जून को जो रिजल्ट आएगा, आप सभी को करेगा सरप्राइज

दरअसल, संजय राउत (Sanjay Raut) ने अमेठी से कांग्रेस उम्मीदवार किशोरी लाल शर्मा (Kishori Lal Sharma) को राहुल गांधी (Rahul Gandhi) का पीए बताया है। राउत ने शनिवार (4 मई) को कहा कि अमेठी से कांग्रेस की ओर से और भी नेताओं ने चुनाव लड़ा है, जो गांधी परिवार से ताल्लुक नहीं रखते थे। उन्हें स्मृति ईरानी (Smriti Irani) पर दया और तरस आती है क्योंकि वो अब राहुल गांधी के पीए से चुनाव हारने वाली हैं।

संजय राउत ने कहा कि ये बहुत सोच-समझकर लिया हुआ फैसला है, जो किशोरी लाल शर्मा (Kishori Lal Sharma) कांग्रेस के वफादार उम्मीदवार हैं। वो एक बहुत ही जमीनी कार्यकर्ता हैं। भाजपा की तरह कांग्रेस ने चुनाव लड़ने के लिए बाहर से तो उम्मीदवार नहीं लेकर आयी।

बता दें कि 2019 के लोकसभा चुनाव में राहुल गांधी को अमेठी सीट से स्मृति ईरानी के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था। वहीं इस बार अमेठी से राहुल गांधी के चुनाव न लड़ने पर भाजपा के नेताओं का कहना है कि वह चुनाव में हार की डर की वजह से अमेठी से चुनाव नहीं लड़ रहे।

पढ़ें :- चुनावी हलचल : जौनपुर के चुनावी महासमर से धनंजय सिंह के बाहर होने पर सपा और भाजपा दोनों प्रत्याशियों का लाभ होना तय है पर कितना-कितना?
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...