ट्रेन में सफर करने वालों के लिये खुशखबरी, RAC कोटे में बढ़ोतरी

नई दिल्ली। रेल में आरएसी के टिकट पर यात्रा करने वालो के लिए एक खुशखबरी है। रेलवे ने ट्रेनों में आरएसी सीट बढ़ा दी है बढ़ी सीटो में रिजर्वेशन 17 जनवरी से लागू होगी। अब ट्रेनों में स्लीपर कोच में 10 के बजाय 14 आरएसी बर्थ, 3एसी कोच में 4 के स्थान पर 8 बर्थ, और 2एसी में 3 के स्थान पर 6 बर्थ आरएसी के होंगे, जाहिर है अब स्लीपर की 28 एसी3 की 16 और एसी2 की 12 टिकट आरएसी की मिलेंगी।



Indian Railway :

रेलवे ने नियमों में जो सबसे बड़ा बदलाव किया था, उसके मुताबिक टीटीई (ट्रैवल टिकट एग्जामिनर)आपको खाली बर्थ पहले की तरह आसानी से अलॉट नहीं कर सकता है। वेटिंग टिकट पर यात्रा करने वाले लोग टिकट कन्फर्म करने के लिए टीटीई से आग्रह करते थे कि वह उन्हें खाली बर्थ पर उनका नाम एलाट कर दे। ऐसे में टीटीई खाली सीटों को वेटिंग के नाम आरक्षित कर देता था। अक्सर ऐसे कार्यो में टीटीई को कुछ पैसे लेते देखा गया है।
रेलवे ने खाली बर्थ के लिए टीटीई के साथ होने वाली पैसे की लेनदेन को रोकने के लिए ये कदम उठाया है।



रेलवे ने गुम सामान को खोजने के लिए भी एक नई सुविधा की शुरुआत की है। अब से टीटीई द्वारा मौजूदा स्टेशन की वेटिंग क्लियर करने के बाद अगले स्टेशन आने पर खुद ही खरीदे गए टिकटों की वेटिंग क्लियर होती जाएगी।

नई दिल्ली। रेल में आरएसी के टिकट पर यात्रा करने वालो के लिए एक खुशखबरी है। रेलवे ने ट्रेनों में आरएसी सीट बढ़ा दी है बढ़ी सीटो में रिजर्वेशन 17 जनवरी से लागू होगी। अब ट्रेनों में स्लीपर कोच में 10 के बजाय 14 आरएसी बर्थ, 3एसी कोच में 4 के स्थान पर 8 बर्थ, और 2एसी में 3 के स्थान पर 6 बर्थ आरएसी के होंगे, जाहिर है अब स्लीपर की 28 एसी3 की 16 और एसी2 की 12 टिकट आरएसी की मिलेंगी। रेलवे ने नियमों में जो सबसे बड़ा बदलाव किया था, उसके मुताबिक टीटीई (ट्रैवल टिकट एग्जामिनर)आपको खाली बर्थ पहले की तरह आसानी से अलॉट नहीं कर सकता है। वेटिंग टिकट पर यात्रा करने वाले लोग टिकट कन्फर्म करने के लिए टीटीई से आग्रह करते थे कि वह उन्हें खाली बर्थ पर उनका नाम एलाट कर दे। ऐसे में टीटीई खाली सीटों को वेटिंग के नाम आरक्षित कर देता था। अक्सर ऐसे कार्यो में टीटीई को कुछ पैसे लेते देखा गया है। रेलवे ने खाली बर्थ के लिए टीटीई के साथ होने वाली पैसे की लेनदेन को रोकने के लिए ये कदम उठाया है। रेलवे ने गुम सामान को खोजने के लिए भी एक नई सुविधा की शुरुआत की है। अब से टीटीई द्वारा मौजूदा स्टेशन की वेटिंग क्लियर करने के बाद अगले स्टेशन आने पर खुद ही खरीदे गए टिकटों की वेटिंग क्लियर होती जाएगी।