1. हिन्दी समाचार
  2. तकनीक
  3. BSNL 5G Service जानिए कब रोलआउट होगी? प्राइवेट कंपनियों को देगी कड़ी टक्कर

BSNL 5G Service जानिए कब रोलआउट होगी? प्राइवेट कंपनियों को देगी कड़ी टक्कर

भारत संचार निगम लिमिटेड (BSNL) को दूरसंचार विभाग (DoT) से 62,000 करोड़ रुपये का 5G स्पेक्ट्रम मिलेगा। यह इस साल की शुरुआत में सरकार द्वारा घोषित 1.64 लाख करोड़ रुपये के राहत पैकेज के अतिरिक्त होगा। इसके अलावा सरकार बीएसएनएल (BSNL)  को 700 मेगाहर्ट्ज और 3.3 गीगाहर्ट्ज में एयरवेज आवंटित करने की योजना भी बना रही है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। भारत संचार निगम लिमिटेड (BSNL) को दूरसंचार विभाग (DoT) से 62,000 करोड़ रुपये का 5G स्पेक्ट्रम मिलेगा। यह इस साल की शुरुआत में सरकार द्वारा घोषित 1.64 लाख करोड़ रुपये के राहत पैकेज के अतिरिक्त होगा। इसके अलावा सरकार बीएसएनएल (BSNL)  को 700 मेगाहर्ट्ज और 3.3 गीगाहर्ट्ज में एयरवेज आवंटित करने की योजना भी बना रही है। 700 MHz बैंड के माध्यम से 5G सेवाओं की पेशकश करने वाला BSNL भारत का दूसरा दूरसंचार ऑपरेटर (Telecom operator) बन जाएगा। इससे पहले 700 MHz बैंड केवल जियो के पास था।

पढ़ें :- इस ऐप को बंद जल्द बंद करेगी गूगल कंपनी, देखें पूरी प्रोसेस

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बीएसएनएल (BSNL)  को 700 MHz बैंड में 10 MHz करीब 40,000 करोड़ रुपये और 70 MHz 3.60-3.67 GHz बैंड में करीब 22,000 करोड़ रुपये मिलेंगे। बीएसएनएल इस स्पेक्ट्रम आवंटन के साथ अच्छी 5जी सेवाएं दे सकेगी। गौरतलब है कि sub-GHz बैंड ग्रामीण क्षेत्रों में 5जी सेवाओं की पेशकश करने में टेल्को की विशेष रूप से मदद करेगा।

बता दें कि बीएसएनएल (BSNL)  जल्द ही टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज के नेतृत्व वाले कंसोर्टियम की मदद से भारत में 4जी सेवाएं शुरू करने जा रहा है, जिसमें तेजस नेटवर्क (Tejas Network) और सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ टेलीमैटिक्स (Center for Development of Telematics) शामिल हैं।

दूरसंचार विभाग की मंजूरी

रिपोर्ट के अनुसार मामले में एक सरकारी अधिकारी ने कहा कि दूरसंचार विभाग की समिति ने बीएसएनएल को 700 मेगाहर्ट्ज बैंड में 10 मेगाहर्ट्ज और 3.60-3.67 गीगाहर्ट्ज बैंड में 70 मेगाहर्ट्ज देने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। इसके अलावा चर्चा यह भी है कि इसे आगे बढ़ाया भी जाएगा।

पढ़ें :- Forbes Billionaires Index : गौतम अडानी एक हफ्ते में नंबर दो से 16वें पर पहुंचे, हिंडनबर्ग रिपोर्ट की सुनामी जारी

भविष्य में 700 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम नहीं खरीदेगी एयरटेल

बीएसएनएल (BSNL)  को देने के लिए सरकार के पास 700 मेगाहर्ट्ज बैंड में पर्याप्त स्पेक्ट्रम होगा, क्योंकि भारती एयरटेल (Bharti Airtel) ने कहा है कि वह भविष्य की नीलामी में भी 700 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम प्राप्त नहीं करेगी। हालांकि, IIFL सिक्योरिटीज की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि 5G SA के लिए लो-फ़्रीक्वेंसी बैंड बिल्कुल आवश्यक नहीं है, लेकिन यह प्रतिस्पर्धा में बढ़त प्रदान करेगा।

अगले साल मिलेगी बीएसएनएल की 5जी सर्विस

एक्सपर्ट्स का मानना है कि 700 मेगाहर्ट्ज बैंड में 10 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम एयरटेल के लिए उपयुक्त है क्योंकि यह ग्रामीण क्षेत्रों में 5जी देने के लिए महत्वपूर्ण होगा। रिलायंस जियो (Reliance Jio) ने पूरे देश में 700 मेगाहर्ट्ज बैंड में 10 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम हासिल करने के लिए 39,270 करोड़ रुपये खर्च किए थे। बीएसएनएल (BSNL) के 5जी के अगस्त 2023 में लॉन्च होने की उम्मीद है।

पढ़ें :- Budget 2023: सीएम योगी बोले-बजट से UP की जनता लाभान्वित होने जा रही
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...