1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. UP पहले भ्रष्टाचार और दंगों में था नंबर वन, अब देश की दूसरी सबसे ‘Largest Economy’ वाला राज्य बना : योगी

UP पहले भ्रष्टाचार और दंगों में था नंबर वन, अब देश की दूसरी सबसे ‘Largest Economy’ वाला राज्य बना : योगी

लखनऊ। यूपी के विधानसभा (UP Legislative Assembly) का मानसून सत्र (Monsoon session) में अनुपूरक बजट (Supplementary Budget) पर भाषण देते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) ने विपक्षी दलों (Opposition Parties) पर जमकर निशाना साधा है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। यूपी के विधानसभा (UP Legislative Assembly) का मानसून सत्र (Monsoon session) में अनुपूरक बजट (Supplementary Budget) पर भाषण देते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) ने विपक्षी दलों (Opposition Parties) पर जमकर निशाना साधा है।

पढ़ें :- अखिलेश का भाजपा पर बड़ा हमला, कहा ​विधानसभा चुनाव निकट आते ही किसानों को दे रहे लालच

इसके साथ ही योगी ने कहा कि विपक्षी नेताओं ने जो सुझाव दिए उसका स्वागत है। उन्होंने कहा कि बीते पांच सालों में प्रदेश का बजट लगभग दोगुना हुआ है। सीएम योगी (CM Yogi) ने कहा कि 2016 में लगभग ढाई करोड़ का बजट होता था। आज हम लगभग 6 लाख करोड़ तक बजट के दायरे को पहुंचाने में सफल रहे हैं। उन्होंने कहा कि 24 करोड़ की आबादी के लिए दो-ढाई करोड़ का बजट ऊंट के मुंह में जीरा जैसा है। योगी ने बताया कि हमारी सरकार के कार्यकाल में प्रति व्यक्ति आय लगभग दोगुनी हुई है।

योगी ने कहा कि यूपी पहले अर्थव्यवस्था में 6 वें नंबर पर था, जबकि आबादी, दंगों और भ्रष्टाचार में नंबर एक था(Number One in Corruption and Riots)। विकास के मामले में यूपी सबसे पीछे होता था। उन्होंने कहा कि इन साढ़े चार सालों में जो मेहनत हुई है उसकी बदौलत यूपी अर्थव्यवस्था (UP Economy) के मामले में देश में नंबर 2 पर है। निवेश के मामले में देश के अंदर यूपी सबसे अच्छा गंतव्य बना है। 2016 में यूपी ईज ऑफ डूंइग (UP is of Doing) के मामले में 16वें नंबर पर था और आज नंबर दो पर आ गया है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पिछले 5 वर्षों में प्रति व्यक्ति आय भी दोगुनी हुई। प्रदेश की विकास यात्रा में हम प्रति व्यक्ति आय को दोगुना होने में सफल हुए। यूपी विकास में सबसे पीछे था। हमें निवेशकों को यूपी बुलाया।

सीएम योगी (CM Yogi ) ने कहा कि 2021-2022 का बजट फरवरी में पेश किया था और सभी बातों का ध्यान रखकर बजट प्रस्तुत किया गया था, लेकिन पिछले 17 महीने से पूरी दुनिया सदी की सबसे बड़ी महामारी झेल रही है। सरकार की तरफ से जो प्रयास किए गए, लेकिन उसके बीच कुछ ऐसी मदें थी, जिसके लिए अनुपूरक बजट लाया गया है।

सीएम योगी ने कहा कि 2017 में बजट पेश करते समय जो बात कही थी। पीएम मोदी, जो सबका साथ सबका विकास की बात करते हैं और सबके विश्वास से जोड़ते हैं वो हमारा भाव है। हमारे जीवन का हिस्सा है और काम में भी यही झलकेगा। समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति से विकास होगा। शासन से इसी के अनुरूप अपना काम किया है। पिछले 5 साल में बजट का दायरा दोगुना हो गया। आज हम 6 लाख करोड़ तक बजट के दायरे तक पहुंच गए। बड़ी सोच होगी तो बजट भी बढ़ेगा। उन्होंने कहा कि संकीर्ण सोच से विराट काम नहीं हो सकता।

पढ़ें :- राम मंदिर मुद्दे का समाधान ही विपक्ष की प्रमुख समस्या: योगी आदित्यनाथ

मां गंगा से लेकर सभी देवी-देवताओं का आशीर्वाद यूपी को मिला, लेकिन कभी ध्यान नहीं दिया गया। बस अपने नाम पर स्मारक बन गए। काशी विश्वनाथ के जरिए यूपी अपने पौराणिक स्थान को पाने जा रहा है। ब्रज क्षेत्र का विकास हो रहा है। ये लोग भी कर सकते थे, लेकिन उनके लिए राम और कृष्ण को संप्रदायिकता का प्रतीक मानते थे। सीएम योगी ने कहा कि जो लोग राम को नकारते थे, वह आज बताने में लगे हैं कि वो बड़े भक्त हैं। कर तो वो भी सकते थे लेकिन सोच नहीं थी। प्रयागराज के कुम्भ की चर्चा वैश्विक स्तर पर हुई। आज पर्यटन में यूपी नम्बर 1 पर है। पहले चौथे-पांचवे नम्बर पर था।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि नेता विरोधी दल को गरीबों को अनाज बांटना अच्छा नहीं लग रहा है। साथ में बैग दिया जा रहा है, वह तो बिल्कुल अच्छा नहीं लग रहा है। 1 लाख 52000 कन्याओं का सामूहिक विवाह के जरिए विवाह करवाया गया है। नेता प्रतिपक्ष राम गोबिंद चौधरी कोजमीन पर चलने के आदि नहीं हैं। 27 लाख 68000 शौचालय अब तक बन चुके हैं। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने किसी का धर्म और मजहब नहीं देखा। ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में 40 लाख आवास बन चुके हैं। आज हमारी सरकार को 4 साल 5 महीने का कार्यकाल पूरा हो गया है। हमने विद्युत कनेक्शन देने में भी भेदभाव नहीं किया। हम सिर्फ एक परिवार को लेकर नहीं चले। हमारे लिए पूरा प्रदेश परिवार है।

सीएम योगी ने कहा कि 3 करोड़ 40 लाख महिलाओं को उज्ज्वला योजना के जरिए गैस कनेक्शन दिए गए हैं। हमने 3 महीने तक का खाद्यान्न लोगों को निशुल्क उपलब्ध करवाया। कोई प्रदेश में भूखे नही मरा। सीएम योगी ने कहा कि महामारी में हर व्यक्ति को बचाना हमारी प्राथमिकता है। जिस प्रतिब्धता और ईमानदारी के साथ हमने काम किया है। दुनिया की सबसे बड़ी ताक़त अमेरिका है। लोग़ों ने कहा कि वहां का माडल अच्छा होगा, अमेरिका में कोरोना में 79.73 प्रतिशत लोग़ों की मौत हुई। इसी तरह इंग्लैंड और ब्राजील जैसे देशों में भी मौतें हुई है।

महाराष्ट्र की आबादी 64 लाख केस आए 1 लाख 39 हज़ार मौत हुई यानी 96 फ़ीसदी मौत हुई। यूपी की आबादी 24 करोड़ है। 17 लाख 8000 कोरोना केस आए, जिसमें मौत 22783 हुई । ये आंकड़े सरकारी पोर्टल पर भी हैं कोई भी देख सकते हैं। सीएम योगी ने कहा कि आंकड़े छिपाने से काम नहीं चलेगा। हमें देश के वैज्ञानिक़ों का सम्मान करना चाहिए। आज यूपी में 4 लाख टेस्ट होने की क्षमता के लिए लैब तैयार कर लिया है। आज हम लोग 7 करोड़ लोगों के टेस्ट कर चुके हैं। 6 करोड़ लोगों को वैक्सीन दी जा चुकी है। सबसे ज्यादा रिकवरी रेट और सबसे कम मौतें हुई हैं।

पढ़ें :- AAP की यूपी में सरकार बनी तो हर घर को 300 यूनिट बिजली फ्री : मनीष सिसोदिया
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...