1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. BJP Government को उखाड़ नहीं फेकें तो किसानों की बिजली के रेट तय करेंगे अडानी और अंबानी : Chaudhary Jayant

BJP Government को उखाड़ नहीं फेकें तो किसानों की बिजली के रेट तय करेंगे अडानी और अंबानी : Chaudhary Jayant

रालोद(RLD) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी जयंत सिंह (National President Chaudhary Jayant Singh) ने कहा कि भाजपा सरकार (BJP Government) में किसानों को जो कष्ट हुए हैं। उनको अब खत्म होने का समय आ गया है। किसानों के कष्टों का यह आखिरी पेराई सत्र होगा। जनता ने मन बना लिया है कि 2022 में भाजपा सरकार (BJP Government)  को उखाड़ फेंकना है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

 शामली। रालोद(RLD) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी जयंत सिंह (National President Chaudhary Jayant Singh) ने कहा कि भाजपा सरकार (BJP Government) में किसानों को जो कष्ट हुए हैं। उनको अब खत्म होने का समय आ गया है। किसानों के कष्टों का यह आखिरी पेराई सत्र होगा। जनता ने मन बना लिया है कि 2022 में भाजपा सरकार (BJP Government)  को उखाड़ फेंकना है। इस सरकार ने कभी किसी गरीब या किसान का भला नहीं किया। यह पूंजीपतियों का भला सोचने वाली सरकार है। चौधरी जयंत (Chaudhary Jayant ) सिंह रविवार को यूपी के शामली जिले में थानाभवन के जैदी फार्म हाउस में परिवर्तन संदेश रैली (Parivartan Sandesh Rally) को संबोधित कर रहे थे।

पढ़ें :- फूलन देवी पर भाजपा प्रवक्ता के इस बयान से बढ़ी सियासी हलचल, अखिलेश बोले-निषाद समाज का किया घोर अपमान

चौधरी जयंत ने कहा कि किसान एक साल से कृषि बिलों के खिलाफ धरने पर बैठे हैं, लेकिन इस सरकार में किसानों को कुचलने व गरीबों के घरों पर बुलडोजर चलवाने की व्यवस्था है। इसको बदलना है। इस सरकार की बुनियाद हिलाने का वक्त आ गया है। सीएम योगी (Cm Yogi)को किसानों के दुख की कोई जानकारी नहीं है। वह खेतों में कभी नहीं गए, बछड़ों के बीच घूमते हैं। यह सरकार और खेतों में घूमते बछड़े, दोनों ही किसानों का नुकसान कर रहे हैं।

कैबिनेट गन्ना मंत्री सुरेश राणा (Cabinet Sugarcane Minister Suresh Rana) पर निशाना साधते हुए कहा कि वह अपने गृह जनपद के किसानों के साथ ही न्याय नहीं कर पाए। किसानों के चीनी मिलों पर 373 करोड़ बकाया हैं। सरकार गन्ना भुगतान 14 दिन में करने का कानून खत्म करने जा रही है। बिजली बिल 2003 में बदलाव कर रेट एक समान करने की तैयारी है। फिर अडानी और अंबानी किसानों की बिजली के रेट तय करेंगे।

कहा कि14 नवंबर से पार्टी का बहुजन उदय अभियान (Bahujan Uday Abhiyan) शुरू करने का एलान किया। कहा कि प्रत्येक रविवार को अनुसूचित जाति के लोगों के बीच जाकर उनके दुख-दर्द सुने। चौधरी जयंत ने कांग्रेस से गठबंधन की बात को नकार दिया। कहा कि सपा से सीटों के बंटवारे को लेकर बातचीत अंतिम दौर में है।

पढ़ें :- बंजारा समाज ने अंग्रेजों के जुल्म सहे पर देश की भावना से नहीं डिगे : Dr. Dinesh Sharma
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...