HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. राष्ट्रपति जो बाइडन की ‘स्टेट ऑफ द यूनियन स्पीच’, बोले-अमेरिका का लोकतंत्र खतरे में

राष्ट्रपति जो बाइडन की ‘स्टेट ऑफ द यूनियन स्पीच’, बोले-अमेरिका का लोकतंत्र खतरे में

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन (US President Joe Biden) ने गुरुवार को देश के नाम संबोधन (स्टेट ऑफ द यूनियन स्पीच) में पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Former President Donald Trump) पर तीखा हमला बोला है। इसके साथ ही चेतावनी दी है कि अमेरिका में लोकतंत्र खतरे में है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन (US President Joe Biden) ने गुरुवार को देश के नाम संबोधन (स्टेट ऑफ द यूनियन स्पीच) में पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Former President Donald Trump) पर तीखा हमला बोला है। इसके साथ ही चेतावनी दी है कि अमेरिका में लोकतंत्र खतरे में है। अपने संबोधन की शुरुआत में ही बाइडन ने कहा कि मैं कांग्रेस और अमेरिका के लोगों को खतरे को लेकर अलर्ट करना चाहता हूं। उन्होंने कहा कि ‘राष्ट्रपति लिंकन और सिविल वॉर से अब तक देश और दुनिया में लोकतंत्र और आजादी कभी इतने खतरे में नहीं थी, जितनी आज है। लोकतंत्र पर हमले हो रहे हैं।

पढ़ें :- 'Trade Strike' से तिलमिलाया ड्रैगन, बोला- अब हम अमेरिका के खिलाफ करेंगे जवाबी कार्रवाई

बाइडन ने ट्रंप पर लगाए पुतिन के आगे झुकने का आरोप

जो बाइडन (Joe Biden) ने ट्रंप पर पुतिन के आगे झुकने के आरोप लगाए हैं। जो बाइडन (Joe Biden)  कहा कि ‘मैं नहीं झुकुंगा’। हालांकि बाइडन ने ट्रंप का नाम नहीं लिया लेकिन पूर्व राष्ट्रपति और पूर्व रिपब्लिकन राष्ट्रपति (Former Republican President) कहकर बाइडन ने साफ कर दिया कि वह ट्रंप की ही बात कर रहे हैं। गुरुवार का बाइडन का संबोधन उनके सबसे अहम राजनीतिक भाषणों में से एक रहा और इसके साथ ही बाइडन ने उन आशंकाओं पर भी विराम लगा दिया, जिनमें बाइडन की बढ़ती उम्र और उनकी मानसिक क्षमता को लेकर सवाल उठ रहे थे। अमेरिका में हो रहे प्राइमरी चुनाव के नतीजों से साफ है कि नवंबर में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव (Presidential Election) में बाइडन का मुकाबला ट्रंप से होना तय है।

अर्थव्यवस्था पर किया बड़ा दावा

अमेरिकी चुनाव (US Elections) में गर्भपात का अधिकार भी एक बड़ा मुद्दा है, जिसका रिपब्लिकन विरोध कर रहे हैं। इस पर बाइडन ने कहा कि रिपब्लिकन को अमेरिका में महिलाओं की ताकत का अंदाजा नहीं है। डेमोक्रेट पार्टी (Democrat Party) का फोकस महिला मतदाताओं पर ज्यादा है। बाइडन ने अर्थव्यवस्था पर अपनी सरकार की पीठ थपथपाते हुए कहा कि हमारी अर्थव्यवस्था संकट में थी, लेकिन अब हमारी अर्थव्यवस्था बहुत बेहतर स्थिति में है। तीन वर्षों में 15 मिलियन नौकरियां दी गई हैं, यह एक रिकॉर्ड है और देश में बेरोजगारी 50 वर्षों में सबसे कम है। बाइडन ने अपने भाषण में गाजा में मानवीय मदद पहुंचाने का एलान किया।

पढ़ें :- 'इजरायल को हम हथियारों की सप्लाई रोक देंगे,' राफा ऑपरेशन पर बाइडेन की नेतन्याहू को दो टूक

चीन-ताइवान मुद्दे पर बोले बाइडन

जो बाइडन (Joe Biden) ने कहा कि अमेरिका, ताइवान जलडमरूमध्य में शांति और सुरक्षा के लिए चीन के खिलाफ खड़ा है और भारत जैसे सहयोगियों के साथ साझेदारी को और मजबूत कर रहा है। बाइडन ने कहा कि हम चीन के साथ प्रतिस्पर्धा चाहते हैं, संघर्ष नहीं। राष्ट्रपति चुनाव से पहले जो बाइडन (Joe Biden) का यह बतौर मौजूदा राष्ट्रपति आखिरी स्टेट ऑफ द यूनियन (State of the Union) संबोधन रहा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...