1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Rahul Gandhi ने मोदी सरकार पर फोड़ा ट्वीट बम, बोले- सबसे पहले ईमान बेचा और अब…

Rahul Gandhi ने मोदी सरकार पर फोड़ा ट्वीट बम, बोले- सबसे पहले ईमान बेचा और अब…

केंद्र की मोदी सरकार (Modi Government) के तरफ से सरकारी संपत्तियों को निजी हाथों में दिए जाने की 'मोनेटाइजेशन योजना' (Monetization Scheme) के खिलाफ एक बार फिर बुधवार को कांग्रेस सांसद राहुल गांधी (Congress MP Rahul Gandhi) ने बेहद कड़े शब्दों में हमला बोला है। राहुल गांधी ने कहा कि नरेंद्र मोदी की सरकार देश की संपत्ति अपने दो तीन दोस्त पूंजीपतियों को बेचने का काम कर रही है। राहुल ने सोशल मीडिया पर हैशटैग इंडियाऑनसेल #IndiaOnSale के साथ लिखा है- सबसे पहले ईमान बेचा और अब।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। केंद्र की मोदी सरकार (Modi Government) के तरफ से सरकारी संपत्तियों को निजी हाथों में दिए जाने की ‘मोनेटाइजेशन योजना’ (Monetization Scheme) के खिलाफ एक बार फिर बुधवार को कांग्रेस सांसद राहुल गांधी (Congress MP Rahul Gandhi) ने बेहद कड़े शब्दों में हमला बोला है। राहुल गांधी ने कहा कि नरेंद्र मोदी की सरकार देश की संपत्ति अपने दो तीन दोस्त पूंजीपतियों को बेचने का काम कर रही है। राहुल ने सोशल मीडिया पर हैशटैग इंडियाऑनसेल #IndiaOnSale के साथ लिखा है- सबसे पहले ईमान बेचा और अब।

पढ़ें :- ‘काला जादू’ जैसी अंधविश्वासी बातें करके देश को भटकाना बंद कीजिए, प्रधानमंत्री जीः राहुल गांधी

बता दें कि राहुल गांधी (Rahul Gandhi)ने इससे पहले मंगलवार को प्रेस कांफ्रेस कर कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 70 साल में बनी देश की पूंजी को अपने कुछ उद्योगपति मित्रों के हाथों में बेच दिया है। इन संपत्तियों को बनाने में 70 साल लगे हैं। इनमें देश की जनता का लाखों करोड़ों रुपये लगा है, लेकिन सरकार इनको अपने तीन-चार उद्योगपतियों को उपहार में दे रही है। उन्होंने कहा कि कुछ कंपनियों को यह उपहार देने से उनका एकाधिकार बनेगा जिस कारण देश के युवाओं को रोजगार नहीं मिल पाएगा।

पढ़ें :- तानाशाह सरकार के खिलाफ और देश की रक्षा के लिए एक और ‘करो या मरो‘ जैसे आंदोलन की ज़रुरत: राहुल गांधी

राहुल ने कहा कि इस देश में जो छोटे और मध्यम व्यवसाय हैं, जो कल आपको (युवाओं को) रोजगार देंगे, वो सब बंद हो जाएंगे, ख़त्म हो जाएंगे। 3-4 व्यवसाय रहेंगे इनको रोजगार देने की कोई जरूरत नहीं रहेगी। सरकार हिन्दुस्तान की पूंजी बेची जा रही है, ये युवाओं के भविष्य पर आक्रमण है। नरेंद्र मोदी अपने 2-3 उद्योगपति मित्रों के साथ हिन्दुस्तान के युवा पर आक्रमण कर रहे हैं, इसे जनता को समझना होगा।

केंद्र ने किया है ऐलान

केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण (Union Finance Minister Nirmala Sitharaman) ने सोमवार को छह लाख करोड़ रुपए की राष्ट्रीय मौद्रिकरण योजना (एनएमपी) (National Monetization Scheme)  की घोषणा की है। इसके तहत सरकार यात्री ट्रेन, रेलवे स्टेशन से लेकर हवाई अड्डे, सड़कें और स्टेडियम को निजी हाथों में देगी। सरकार का कहना है कि बुनियादी ढांचा क्षेत्रों में निजी कंपनियों को शामिल करते हुए संसाधन जुटाए जाएंगे और संपत्तियों का विकास किया जाएगा। निजी निवेश हासिल करने के लिए चेन्नई, भोपाल, वाराणसी व वडोदरा सहित भारतीय हवाई अड्डा प्राधिकरण (एएआई) Airport Authority of India (AAI) के करीब 25 हवाई अड्डे, 40 रेलवे स्टेशनों, 15 रेलवे स्टेडियम और कई रेलवे कॉलोनियों की पहचान की गई है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...