HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. पर्दाफाश
  3. गाल में सूजन और बुखार हो सकता है कनफेड़ का लक्षण, इसके कारण और बचने के उपाय

गाल में सूजन और बुखार हो सकता है कनफेड़ का लक्षण, इसके कारण और बचने के उपाय

कनफेड़ या मम्स संक्रामक रोग होता है। जो भीड़भाड़ वाली जगह पर फैलता है। यह रोग संक्रमित व्यक्ति के छींकने या खांसने की वजह से फैलता है। साथ यह संक्रमित व्यक्ति का झूठा या उसके झूठे बर्तन में खाने की वजह से होता है।

By प्रिन्सी साहू 
Updated Date

कनफेड़ या मम्स संक्रामक रोग होता है। जो भीड़भाड़ वाली जगह पर फैलता है। यह रोग संक्रमित व्यक्ति के छींकने या खांसने की वजह से फैलता है। साथ यह संक्रमित व्यक्ति का झूठा या उसके झूठे बर्तन में खाने की वजह से होता है।

पढ़ें :- लखनऊ में DRDO का मॉडल हेलीकॉप्टर कहां 'उड़' गया? नगर निगम के पास नहीं है इसका जवाब

इस रोग से बचने के लिए साफ सफाई का ध्यान रखने की जरुरत होती है। समय समय पर हाथ धुलते रहें। संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से बचें। इसके अलावा मम्स वैक्सीन बच्चों की दी जाती है। जिससे वायरस इंफेक्शन से बचाव मिलता है।

क्या होते है मम्स या कनफेड़ के लक्षण

इस रोग के लक्षण सोलह से अठ्ठारह दिनों में नजर आने लगते हैं। जिसमें बुखार, सिर दर्द, मांसपेशियों में दर्द, थकान और भूख न लगना शामिल है। इसके अलावा लार ग्रंथी में सूजन भी इसका लक्षण है जिसकी वजह से गाल में सूजन आ जाती है।
इससे बचने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी पीएं।सूजी हुई ग्रंथियों पर कोल्ड या वार्म कम्प्रेस से भी परेशानी में आराम मिलता है।

पढ़ें :- Ghatkopar Hoarding Collapse : बॉलीवुड स्टार कार्तिक आर्यन के मामा-मामी की हादसे में मौत, 3 दिन बाद मिले शव
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...