1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. फर्जी दरोगा बनकर महिला वकील के पास शादी का प्रस्ताव लेकर पहुंचा कैब चालक, जानिये कैसे खुली पोल

फर्जी दरोगा बनकर महिला वकील के पास शादी का प्रस्ताव लेकर पहुंचा कैब चालक, जानिये कैसे खुली पोल

उत्तर प्रदेश के लखनऊ में कैब चलाने वाला युवक महिला वकील के पास शादी करने का प्रस्ताव लेकर बरेली पहुंच गया। युवक ने खुद को उत्तर प्रदेश पुलिस में दरोगा बताया था। बातो बातो में महिला वकील को उसकी बातो पर कुछ शक हो गया और पुलिस और कानून से जुड़े कुछ ऐसे सवाल पूछ लिये कि फर्जी दरोगा उनका जवाब ही नही दे पाया और उसकी पोल खुल गई।

By शिव मौर्या 
Updated Date

उत्तर प्रदेश के लखनऊ में कैब चलाने वाला युवक महिला वकील के पास शादी करने का प्रस्ताव लेकर बरेली पहुंच गया। युवक ने खुद को उत्तर प्रदेश पुलिस में दरोगा बताया था। बातो बातो में महिला वकील को उसकी बातो पर कुछ शक हो गया और पुलिस और कानून से जुड़े कुछ ऐसे सवाल पूछ लिये कि फर्जी दरोगा उनका जवाब ही नही दे पाया और उसकी पोल खुल गई। आरोपी युवक को महिला की शिकायत पर संबंधित थाना पुलिस ने हिरासत में लिया है।

पढ़ें :- बीजेपी सरकार से हट जाए, तीन महीने में जातीय जनगणना करके दिखाएं समाजवादी लोग : अखिलेश यादव

फेसबुक से हुई थी दोनो के बीच दोस्ती
जानकारी के अनुसार लखनऊ में टैक्सी चलाने वाला सत्यम नामक एक युवक ने कुछ समय पहले बरेली की रहने वाली एक महिला वकील को फेसबुक पर फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजी थी। जिसके बाद से दोनो एक दूसरे को जानते थे। बताया गया है कि इस दौरान आरोपी सत्यम ने महिला वकील को खुद को यूपी पुलिस में दरोगा बताया था और दरोगा की वर्दी में एक फोटो भी महिला वकील को भेजा था। जिसके बाद दोनो के बीच दोस्ती हो गईऔर शादी की बात करने लगे। आरोपी युवक ने बताया था कि उसके माता पिता की सड़क दुघर्टना में मौत हो चुकी है। दोनो के बीच बाते होती रही। अब आरोपी सत्यम अपनी शादी का प्रस्ताव लेकर महिला के पास बरेली में आया था।

कैसे खुली पोल
बरेली पहुंचे युवक सत्यम और महिला वकील के बीच बात होने लगी। बातो-बातो में महिला को उसकी बातो पर शक हुआ। अपने शक को दूर करने के लिये महिला वकील ने युवक से पुलिस और कानून से संबंधित कुछ सवाल पूछे। जिनके जवाब देने में सत्यम चकरा गया। यहां तक की सत्यम एफआईआर और चार्जशीट के बारे में भी कुछ नही बता पाया। इस पर उसका झूठ पकड़ा गया। महिला वकील ने पुलिस को मौके पर बुलाया। मौके पर पहुंची पुलिस टीम ने आरोपी सत्यम का आईकार्ड चेक किया तो वह फर्जी निकला। जिसके बाद पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया है।

रिपोर्ट—सचिन

पढ़ें :- सपा ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी की संशोधित सूची जारी की,सवर्णों को भी मिली जगह
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...