1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. UP News : बस ये बटन दबाइये तुरंत आपके पास पहुंचेगी पुलिस और एम्बुलेंस, जानें क्‍या है ये नई तकनीक?

UP News : बस ये बटन दबाइये तुरंत आपके पास पहुंचेगी पुलिस और एम्बुलेंस, जानें क्‍या है ये नई तकनीक?

यूपी की योगी सरकार (Yogi Government) ने नोएडा में नया प्रयोग करते हुए सुरक्षा को लेकर बड़ा कदम उठाया गया है। यहां के चौराहों पर SOS (सेव ओवर सॉल) बॉक्स लगाए जा रहे हैं। इनमें हेल्प का बटन दबाते ही आपके पास एम्बुलेंस और नोएडा पुलिस (Noida Police) पहुंच जाएगी।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नोएडा । यूपी की योगी सरकार (Yogi Government) ने नोएडा (Noida) में नया प्रयोग करते हुए सुरक्षा को लेकर बड़ा कदम उठाया गया है। यहां के चौराहों पर SOS (सेव ओवर सॉल) बॉक्स लगाए जा रहे हैं। इनमें हेल्प का बटन दबाते ही आपके पास एम्बुलेंस और नोएडा पुलिस (Noida Police) पहुंच जाएगी। लिहाजा, अब आपातकालीन नम्बर मिलाने का झंझट खत्म हो गया। नोएडा अथॉरिटी (Noida Authority) की सीईओ रितु माहेश्वरी (CEO Ritu Maheshwari) ने कहा कि जल्द ही नोएडा की सभी प्रमुख लोकेशन SOS सिस्टम से लैस कर दी जाएंगी।

पढ़ें :- नौतनवा:सांस्कृतिक कार्यक्रमों के बीच हर्षोल्लास के साथ 74वॉ गणतंत्र दिवस और बसंत पंचमी मना

फ‍िलहाल नोएडा (Noida)  की 76 लोकेशन पर SOS सिस्टम लगा दिया गया है। जल्द ही अन्य चौराहों और स्थानों पर SOS सिस्टम लगा दिया जाएगा। यह सिस्टम दुर्घटना में घायलों और महिला सुरक्षा के लिए बेहद कारगर साबित होगा। यह सिस्टम ऐसी जगह लगाया जा रहा है, जहां पर भीड़भाड़ ज्यादा रहती है।

जानें कैसे काम करता है SOS सिस्टम?

बॉक्स पर इमरजेंसी हेल्प का बटन (Emergency Help Button) होता है, जिसे जरूरतमंद पुश कर सकते हैं। इससे कंट्रोल रूम में कॉल लग जाती है। कंट्रोल रूम से आपसे समस्या पूछी जाती है। जीपीएस सिस्टम (GPS System)से लोकेशन ट्रेस कर उसी जगह पर पेट्रोलिंग पुलिस वाहन या एंबुलेंस पहुंच जाती है।

ये होगा फायदा

पढ़ें :- नौतनवा:भाजपा नेता के घर पर चले बुलडोजर मामले में फिर पहुंचे एसडीएम,ली जानकारी

-सेवा के लिए नंबर मिलाने का झंझट खत्म।
– नोएडा के 76 लोकेशन में लगाए गए sos बॉक्स।
– आपात कालीन सेवाओं को लिए नम्बर मिलाने का झंझट खत्म।
– SOS बॉक्स जीपीएस सिस्टम से भी हैं लैस।
– बटन दबाते ही कंट्रोल रूप पहुंचेगा मैसेज।
– पीड़ित की लोकेशन भी हो जाएगी ट्रेस।
– घायल हैं तो एम्बुलेंस भी मौके पर पहुंचेगी।
– मुसीबत में हैं तो सुरक्षा के लिये पुलिस भी पहुंचेगी।
– महिला सुरक्षा के लिए अहम हैं SOS बॉक्स।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...