1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. यूपी: योगी सरकार का निर्णय, दूध देना बंद करने पर गाय को छोड़ा तो होगी कार्रवाई

यूपी: योगी सरकार का निर्णय, दूध देना बंद करने पर गाय को छोड़ा तो होगी कार्रवाई

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार (yogi adityanath government) ने लावरिस पशुओं को लेकर बड़ा कदम उठाया है। अब ऐसे लोगों पर कार्रवाई होगी जो दूध देने के बाद गाय को बेसहारा छोड़ देते हैं। उनके खिलाफ पशु क्रूरता रोकथाम अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया जाएगा।

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार (yogi adityanath government) ने लावरिस पशुओं को लेकर बड़ा कदम उठाया है। अब ऐसे लोगों पर कार्रवाई होगी जो दूध देने के बाद गाय को बेसहारा छोड़ देते हैं। उनके खिलाफ पशु क्रूरता रोकथाम अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया जाएगा। कहा जा रहा है कि सरकार के इस फैसले से लावरिस पशुओं में कमी देखने को मिलेगी। पशुपालन मंत्री धर्मपाल सिंह ने कहा कि, कसाई और किसान में अंतर है।

पढ़ें :- नौतनवा:सांस्कृतिक कार्यक्रमों के बीच हर्षोल्लास के साथ 74वॉ गणतंत्र दिवस और बसंत पंचमी मना

हम किसानों का ध्यान रखेंगे, कसाइयों का नहीं। अपने पशुओं को छोड़ने वालों के खिलाफ पशु क्रूरता रोकथाम अधिनियम के तहत केस दर्ज किया जाएगा। पशुपालन मंत्री ने ये जवाब विधानसभा में सपा विधायक अवधेश प्रसाद की ओर से विधानसभा में प्रश्नकाल के दौरान पूछे गए सवाल पर दिया।

दरअसल, सपा विधायक अवधेश प्रसाद ने सरकार से आवारा पशुओं की समस्या को लेकर योजना और इनकी वजह से मारे गए लोगों को मुआवजे से संबंधित सवाल पूछा था। इसका जवाब देते हुए पशुपालन मंत्री ने कहा कि, ‘ये आवारा मवेशी नहीं हैं, बल्कि उन्हें छोड़ा गया है। हर कोई जानता है कि उन्हें किसने छोड़ा है।

जब एक गाय दूध देती है तो उसे रखा जाता है और जब दूध देना बंद करती है तो छोड़ दिया जाता है।’ इसके साथ ही मंत्री ने बताया कि 15 मई तक 6,187 गौ आश्रम केंद्र प्रदेश के शहरी और ग्रामीण इलाकों में बनाए गए हैं। इनमें 8,38,015 पशुओं को रखा गया है।

पढ़ें :- नौतनवा:भाजपा नेता के घर पर चले बुलडोजर मामले में फिर पहुंचे एसडीएम,ली जानकारी
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...