1. हिन्दी समाचार
  2. तकनीक
  3. Aadhaar Update : अब बिना अड्रेस प्रूफ के आधार होगा अपडेट , बस करना होगा ये काम

Aadhaar Update : अब बिना अड्रेस प्रूफ के आधार होगा अपडेट , बस करना होगा ये काम

देश में आधार कार्ड (Aadhar Card) पहचान पत्र के रूप में इस्तेमाल होता है। इसके अलावा कई सरकारी कामों में भी इसका इस्तेमाल होता है। ऐसे में अगर आपको अपने आधार में कुछ जानकारी बदलना चाहते हैं तो UIDAI इसकी सुविधा देता है, लेकिन अब भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) अब भारतीयों को अपने परिवार के मुखिया की सहमति से आधार में पते को ऑनलाइन अपडेट करने की अनुमति दे रहा है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। देश में आधार कार्ड (Aadhar Card) पहचान पत्र के रूप में इस्तेमाल होता है। इसके अलावा कई सरकारी कामों में भी इसका इस्तेमाल होता है। ऐसे में अगर आपको अपने आधार में कुछ जानकारी बदलना चाहते हैं तो UIDAI इसकी सुविधा देता है, लेकिन अब भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) अब भारतीयों को अपने परिवार के मुखिया की सहमति से आधार में पते को ऑनलाइन अपडेट करने की अनुमति दे रहा है।

पढ़ें :- Maharashtra News : संजय राउत ने केंद्रीय मंत्री नारायण राणे को भेजा मानहानि का नोटिस, बढ़ीं मुश्किलें

घर के मुखिया की मदद से अपडेट होगा आधार

UIDAI एक आधिकारिक बयान में मंगलवार को कहा कि वह अब आधार धारकों को सुविधा दे रहा है। इसकी मदद से आप बिना किसी प्रमाण पत्र के जरूरत नहीं होगी। इसके लिए आपको परिवार के मुखिया( Head of the family) के अनुमति की जरूरत होगी।

ये डॉक्यूमेंट होंगे जरूरी 

इसके लिए आप आवेदक और परिवार के मुखिया (HOF) दोनों के नाम और उनके बीच संबंध का उल्लेख करने वाले डॉक्यूमेंट्स जैसे राशन कार्ड, मार्कशीट, विवाह प्रमाण पत्र, पासपोर्ट आदि का इस्तेमाल कर सकते है। ये डॉक्यूमेंट के प्रमाण पत्र की तरह इस्तेमाल हो सकते हैं और नई प्रक्रिया शुरू की जा सकेगी। बता दें कि इस प्रक्रिया के लिए HOF द्वारा OTP-आधारित प्रमाणीकरण की आवश्यकता होती है।

पढ़ें :- Joginder Sharma Retirement: 2007 में भारत को टी20 विश्व कप जिताने वाले खिलाड़ी ने लिया संन्यास

HOF-आधारित ऑनलाइन एड्रेस अपडेट

संबंध दस्तावेज का प्रमाण उपलब्ध नहीं होने की स्थिति में, UIDAI बयान के अनुसार निवासी को UIDAI द्वारा निर्धारित फॉर्मेट में मुखिया द्वारा सेल्फ डिक्लेरेशन देता है। बता दें कि आधार में HOF-आधारित ऑनलाइन पता अपडेट एक निवासी के रिश्तेदारों (बच्चों), पति/पत्नी, माता-पिता आदि के लिए बहुत मददगार होगा, जिनके पास अपने आधार में पते को अपडेट करने के लिए स्वयं के नाम पर कोई सहायक दस्तावेज नहीं हैं।

देश के भीतर अलग-अलग कारणों से शहरों और कस्बों में जाने वाले लोगों के साथ, इस तरह की सुविधा लाखों लोगों के लिए फायदेमंद होगी। पते को अपडेट करने का नया विकल्प UIDAI द्वारा निर्धारित पुराने प्रक्रिया से अलग है, जिसमें पते के किसी भी वैध प्रमाण का उपयोग किया जाता है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...