1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. Afghanistan Taliban War: तालिबान लड़ाकों ने जलालाबाद पर कब्जा किया , काबुल में बिजली सप्लाई को किया ध्वस्त

Afghanistan Taliban War: तालिबान लड़ाकों ने जलालाबाद पर कब्जा किया , काबुल में बिजली सप्लाई को किया ध्वस्त

अफगानिस्तान में हालात बहुत खराब हो गए है। पिछले कुछ दिनों से तालिबान लड़ाकों के हिंसक अभियान ने अफगानिस्तान के बहुत बड़े हिस्से पर कब्जा कर लिया। अफगानिस्तान बहुत ही बुरे दौर से गुजर रहा है। देश में अशरफ गनी सरकार पर संकट के बादल उमड़ रहे है।

By अनूप कुमार 
Updated Date

काबुल: अफगानिस्तान में हालात बहुत खराब हो गए है। पिछले कुछ दिनों से तालिबान लड़ाकों के हिंसक अभियान ने अफगानिस्तान के बहुत बड़े हिस्से पर कब्जा कर लिया। अफगानिस्तान बहुत ही बुरे दौर से गुजर रहा है। देश में अशरफ गनी सरकार पर संकट के बादल उमड़ रहे है।

पढ़ें :- IS: इस्लामिक स्टेट ने तालिबानियों को बताया नकली जेहादी, कहा वहां कोई जीत हासिल नहीं हुई

काबुल पर तालिबानी लड़ाकों के कदमों की आहट से काबुल की गलियां सूनी हो गई है। खबरों के मुताबिक तालिबान ने विस्फोटकों का इस्तेमाल करते हुए बिजली सप्लाई को ध्वस्त कर दिया है। दूसरी ओर सोशल मीडिया पर शेयर किए गए वीडियो में साफ दिख रहा है कि काबुल (Kabul) अंधेरे में डूबा है और तालिबान के साथ संघर्ष अपने निर्णायक मोड़ पर पहुंच गया है।

अफगानिस्तान के एक सांसद और तालिबान ने कहा है कि चरमपंथियों ने जलालाबाद (Jalalabad) पर कब्जा कर लिया है और काबुल देश के पूर्वी हिस्से से कट गया है।
तालिबान ने रविवार सुबह कुछ तस्वीरें ऑनलाइन जारी कीं, जिनमें उसके लोगों को नांगरहार

इससे पहले अफगानिस्तान के चौथे सबसे बड़े शहर मजार-ए-शरीफ पर शनिवार को चौतरफा हमलों के बाद तालिबान का कब्जा हो गया। बल्ख के सांसद अबास इब्राहिमज़ादा ने कहा कि प्रांत की राष्ट्रीय सेना के कोर ने पहले आत्मसमर्पण कर दिया, जिसके बाद सरकार समर्थक मिलिशिया और अन्य बलों ने मनोबल खो दिया और हार मान ली।

खबरों के अनुसार, अफगानिस्तान के एक सांसद ने कहा कि तालिबान ने बिना लड़ाई के मध्य दाइकुंदी प्रांत पर कब्जा कर लिया है।पिछले कुछ दिनों में तालिबान बहुत आगे बढ़ा है। उसने हेरात और कंधार पर कब्जा कर लिया, जो देश के क्रमश: दूसरे और तीसरे सबसे बड़े शहर हैं। उसका अब 34 प्रांतों में करीब 24 पर कब्जा है। तालिबान ने पाकिस्तान की सीमा से लगे छोटे से प्रांत कुनार पर बिना किसी लड़ाई के कब्जा कर लिया।

तालिबान ने उत्तरी फरयाब प्रांत की राजधानी मैमाना पर भी कब्जा कर लिया है।

अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों की पूर्णतया वापसी में तीन सप्ताह से भी कम समय बचा है और ऐसे में तालिबान ने उत्तर, पश्चिम और दक्षिण अफगानिस्तान के अधिकतर हिस्सों पर कब्जा कर लिया है। इसके कारण यह आशंका बढ़ गई है कि तालिबान फिर से अफगानिस्तान पर कब्जा कर सकता है या देश में गृह युद्ध की स्थिति पैदा हो सकती है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...