1. हिन्दी समाचार
  2. क्रिकेट
  3. BCCI Meeting: वर्ल्ड कप की तैयारियों पर जोर, बीसीसीआई की मीटिंग में लिए गए ये बड़े फैसले

BCCI Meeting: वर्ल्ड कप की तैयारियों पर जोर, बीसीसीआई की मीटिंग में लिए गए ये बड़े फैसले

टी20 ​विश्व कप 2022 में टीम इंडिया को मिली हार के बाद बीसीसीआई ने मुंबई में आज समीक्षा बैठक की। इस समीक्षा बैठक में कई अहम निर्णय लिए गए, जिसमें खिलाड़ियों का वर्कलोड मैनेजमेंट इनमें से एक है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

BCCI Meeting: टी20 ​विश्व कप 2022 में टीम इंडिया को मिली हार के बाद बीसीसीआई ने मुंबई में आज समीक्षा बैठक की। इस समीक्षा बैठक में कई अहम निर्णय लिए गए, जिसमें खिलाड़ियों का वर्कलोड मैनेजमेंट इनमें से एक है।

पढ़ें :- राज्यसभा में पीएम मोदी के धन्यवाद प्रस्ताव पर समझिये भाषण का सार

दरअसल, इस समय टीम इंडिया के खिलाड़ी चोटिल चल रहे हैं। ऐसे में टीम इंडिया के सामने बड़ी चुनौती है। ऐसे में टीम के कप्तान रोहित शर्मा, कोच राहुल द्रविड़, बीसीसीआई अध्यक्ष रोजर बिन्नी, बीसीसीआई सचिव जय शाह, पूर्व चयनसमिति के अध्यक्ष चेतन शर्मा और एनसीए के हेड वीवीएस लक्ष्मण की मौजूदगी वाली मीटिंग में खिलाड़ियों के वर्कलोड पर काफी बात हुई।

दरअसल, इस साल अक्टूबर के महीने में वनडे विश्व कप होना है। इसको लेकर अभी से मंथन शुरू हो गया है। ऐसे में बीसीसीआई आईपीएल के दौरान प्रमुख खिलाड़ियों को आराम दे सकता है। इस मीटिंग में 2022 में भारतीय टीम के प्रदर्शन पर भी चर्चा हुई। इस दौरान दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज में हार और टी20 विश्व कप में भारत के सेमीफाइनल में हारने पर भी चर्चा हुई।

मीटिंग में लिए गए ये अहम फैसले
. अगर आईपीएल में अहम खिलाड़ियों के चोटिल होने की संभावना है तो उन्हें आईपीएल से दूर रखा जाएगा।

. 20 खिलाड़ियों का पूल बनाया गया है, जिनके बीच से वनडे विश्व कप की टीम चुनी जाएगी।
नए ब्लूप्रिंट के अनुसार, खिलाड़ियों सेंट्रल पूल के लिए एक फिटनेस और वर्कलोड रोडमैप को तैयार किया जाएगा, इसके लिए काम शुरू हो चुका है।

पढ़ें :- पीएम मोदी ने सदन में हंगामा कर रहे विपक्षी सांसदों पर कसा तंज, कीचड़ उसके पास था, मेरे पास गुलाल

. खिलाड़ियों की फिटनेस का सटीक अंदाजा लगाने के लिए यो-यो टेस्ट के साथ डेक्सा स्कैन को भी जोड़ने की सिफारिश की गई है। डेक्सा स्कैन के जरिए खिलाड़ियों की हड्डी की मजबूती पता चलती है।

. युवा खिलाड़ियों को राष्ट्रीय टीम में जगह बनाने के लिए घरेलू क्रिकेट में पर्याप्त क्रिकेट खेलना जरूरी होगा। इससे पहले आईपीएल में चमकने वाले खिलाड़ियों को सीधे भारतीय टीम में जगह मिल जाती थी।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...