1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. प्रदूषण पर यूपी सरकार की दलील पर बोले CJI-तो आप पाकिस्तान में बंद कराना चाहते हैं उद्योग

प्रदूषण पर यूपी सरकार की दलील पर बोले CJI-तो आप पाकिस्तान में बंद कराना चाहते हैं उद्योग

सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) में वायु प्रदूषण (air pollution) के मामले में सुनवाई हुई। यूपी सरकार (UP Sarkar) की तरफ से सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) में कहा गया कि उद्योग के बंद होने से राज्य में गन्ना और दूध उद्योग प्रभावित हो सकते हैं। इसके कारण राज्य भी पीछे जा सकता है। सरकार की तरफ से कहा गया कि यूपी में प्रदूषण ज्यादातर पाकिस्तान से आ रही है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) में वायु प्रदूषण (air pollution) के मामले में सुनवाई हुई। यूपी सरकार (UP Sarkar) की तरफ से सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) में कहा गया कि उद्योग के बंद होने से राज्य में गन्ना और दूध उद्योग प्रभावित हो सकते हैं। इसके कारण राज्य भी पीछे जा सकता है। सरकार की तरफ से कहा गया कि यूपी में प्रदूषण ज्यादातर पाकिस्तान से आ रही है।

पढ़ें :- सुप्रीम कोर्ट के गेट नंबर 1 पर नोएडा के व्यक्ति ने किया आत्मदाह, हालत गंभीर

यूपी सरकार की तरफ से दिए गए इस दलील पर मुख्य न्यायाधीश एनवी रमना (Chief Justice NV Ramana) ने चुटकी ली। उन्होंने कहा कि आप पाकिस्तान में लगे उद्योगों को बंद कराना चाहते हैं। वहीं, प्रदूषण मामले में केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि पांच सदस्यों की इंफोर्समेंट टास्क फोर्स गठित की गई है।

बता दें कि, दिल्ली में वायु प्रदूषण के खतरे को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को बड़ा फैसला सुनाया था। सुप्रीम कोर्ट ने वहां के स्कूलों को बंद करने के आदेश दिए थे। सुप्रीम कोर्ट के इस आदेश के बाद दिल्ली सरकार ने अगले आदेश तक स्कूलों को बंद करने का निर्णय लिया था।

कुछ लोग दिखाना चाहते हैं कि हम खलनायक हैं
वायु प्रदूषण पर सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) ने कहा कि हमने देखा कि मीडिया के कुछ वर्ग ये दिखाना चाहते हैं कि हम खलनायक हैं और स्कूलों को बंद करना चाहते हैं। आपने (दिल्ली सरकार) कहा था कि हम स्कूल बंद कर रहे हैं और वर्क फ्रॉम होम शुरू कर रहे हैं, लेकिन आज का अखबार देखें।

पढ़ें :- PM Modi Security Breach : सुप्रीम कोर्ट ने 4 सदस्यों की बनाई जांच कमेटी, जस्टिस इंदु मल्होत्रा करेंगी अगुवाई
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...