1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. आजम खान की नाराजगी से क्या सपा से दूर होने लगा मुस्लिम वोटर? अखिलेश की मु​​श्किलें बढ़नी तय

आजम खान की नाराजगी से क्या सपा से दूर होने लगा मुस्लिम वोटर? अखिलेश की मु​​श्किलें बढ़नी तय

समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के दिग्ग्गज नेता आजम खान (Aazam Khan) पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव  (Akhilesh Yadav) से नाराज चल रहे हैं। शिवपाल यादव से मुलाकात के बाद आजम खान ने सपा नेताओं से मिलने से इनकार कर दिया था। हालांकि, उन्होंने कांग्रेस नेता प्रमोद कृष्णम से मुलाकात की थी। इसके बाद से कहा जाने लगा था कि आजम खान समाजवादी पार्टी का साथ छोड़ देंगे।

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के दिग्ग्गज नेता आजम खान (Aazam Khan) पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव  (Akhilesh Yadav) से नाराज चल रहे हैं। शिवपाल यादव से मुलाकात के बाद आजम खान ने सपा नेताओं से मिलने से इनकार कर दिया था। हालांकि, उन्होंने कांग्रेस नेता प्रमोद कृष्णम से मुलाकात की थी। इसके बाद से कहा जाने लगा था कि आजम खान समाजवादी पार्टी का साथ छोड़ देंगे।

पढ़ें :- India and New Zealand T20 Series: भारत ने न्यूजीलैंड को 168 रनों से हराया, सीरीज पर भी किया कब्जा

उधर, आजम खान (Aazam Khan)  के करीबी लगातार समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) का साथ छोड़कर जा रहे हैं। सूत्रों की माने तो जमानत पर बाहर आने के बाद आजम खान अपने समर्थकों से मुलाकात के बाद समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) छोड़ने का ऐलान कर सकते हैं। इन सबके बीच सपा अध्यक्ष आजम खान को मनाने की कोशिश में जुटे हुए हैं।

कहा जा रहा है कि अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav)के कहने पर सुभासपा प्रमुख ओमप्रकाश राजभर और मुख्तार के बेटे अब्बास अंसारी भी मुलाकात कर सकते हैं। अब देखना ये होगा कि क्या आजम खान (Aazam Khan) इन दोनों नेताओं से मुलाकात करेंगे या नहीं? बता दें कि, अखिलेश यादव किसी भी सूरत में आजम खान को मनाना चाहते हैं। दरअसल, 2024 के चुनाव में अखिलेश यादव नई रणनीति के साथ चुनावी मैदान में उतरेंगे और आजम खान (Aazam Khan) सपा के बड़े मुस्लिम नेता हैं।

मुस्लिम वोटों में होगा बिखराव का डर
कहा जा रहा है कि आजम खान (Aazam Khan)  अगर समाजवादी पार्टी का दामन छोड़ देंगे तो पार्टी के वोट बैंक पर बड़ा नुकसान होगा। दरअसल, विधानसभा चुनाव में मुस्लिम वोटरों का झुकाव सपा की तरफ देखा गया था। ऐसे में आजम खान के अलग होते ही मुस्लिम वोट में बिखराव की बात कही जा रही है।

पढ़ें :- India and New Zealand T20 Series: शुभमन गिल के तूफानी शतक के साथ टीम इंडिया ने दिया न्यूजीलैंड को 235 रनों का लक्ष्य
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...