1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. अरे यार, कैसे मंत्री आप लोगों को बना देते हैं, कहां-कहां से आ जाते हैं…तेजस्वी के इस बयान पर हंगामा

अरे यार, कैसे मंत्री आप लोगों को बना देते हैं, कहां-कहां से आ जाते हैं…तेजस्वी के इस बयान पर हंगामा

तेजस्वी ने मंत्री प्रमोद कुमार को इशारा करते हुए कह दिया- ''अरे यार, गजब करते हैं। कैसे मंत्री आप लोगों को बना देते हैं, कहां-कहां से आ जाते हैं।'' इसके बाद ही सदन में हंगामा खड़ा हो गया।

By शिव मौर्या 
Updated Date

पटना: बिहार विधान सभा के अंदर वार पटलवार का सिलसिला जारी है। विधानसभा के अंदर सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच हंगामा थमने का नाम नहीं ले रहा है। गन्ना उद्योग मंत्री प्रमोद कुमार के जवाब से नाराज़ तेजस्वी यादव ने कहा कि न जाने कैसे-कैसे लोग मंत्री बन जाते हैं। इसके बाद तेजस्वी अपने विधायकों के साथ सदन से बाहर चले गए। सदन की कार्यवाही के दौरान बिहार सरकार के मंत्री पर तेजस्वी अपनी नाराजगी कुछ ऐसे शब्दों में जता दी जो सदन में हंगामे का कारण बन गया। एनडीए के नेताओं ने उन पर सदन की गरिमा को तार-तार करने और गलत परंपरा शुरू करने का आरोप लगाया है।

पढ़ें :- Monsoon session of Bihar Legislature: सदन में भी लगता है राजद विधायकों को डर, जानिए क्यों हेलमेट पहनकर पहुंचे

दरअसल सदन की कार्यवाही के दौरान तेजस्वी यादव ने गन्ना मंत्री से प्रदेश में बंद पड़ी गन्ना मील पर सवाल किया। जिसका जवाब दे रहे गन्ना मंत्री प्रमोद कुमार को बीच में ही रोक तेजस्वी ने अपनी नाराजगी जताई। इस दौरान उन्होंने जिन शब्दों का उपयोग किया उस पर हंगामा खड़ा हुआ। तेजस्वी ने मंत्री प्रमोद कुमार को इशारा करते हुए कह दिया- ”अरे यार, गजब करते हैं। कैसे मंत्री आप लोगों को बना देते हैं, कहां-कहां से आ जाते हैं।” इसके बाद ही सदन में हंगामा खड़ा हो गया। बिहार के वित्त मंत्री ने तेजस्वी को आड़‍े हाथ लिया और गलत बयानबाजी का जमकर विरोध किया। उन्होंने कहा कि ये गलत परंपरा की शुरुआत सदन में की जा रही है। किसी भी मंत्री को इस तरह से नहीं बोला जा सकता।

वहीं इस मामले में भाजपा नेता नंदकिशोर यादव भी कूदे और उन्होंने सदन की परंपरा का याद दिलाया। वहीं उन्होने ऐसी बयानबाजी पर तेजस्वी का विरोध करते हुए कहा कि अपने मंत्री के लिए ऐसा सहन नहीं हो सकता। इसके बाद ही सदन में हंगामा खड़ा हो गया। बिहार के वित्त मंत्री ने तेजस्वी को आड़‍े हाथ लिया और गलत बयानबाजी का जमकर विरोध किया। उन्होंने कहा कि ये गलत परंपरा की शुरुआत सदन में की जा रही है। किसी भी मंत्री को इस तरह से नहीं बोला जा सकता।

वहीं इस मामले में भाजपा नेता नंदकिशोर यादव भी कूदे पड़े और उन्होंने सदन की परंपरा का याद दिलाया। वहीं उन्होने ऐसी बयानबाजी पर तेजस्वी का विरोध करते हुए कहा कि अपने मंत्री के लिए ऐसा सहन नहीं हो सकता। जेडीयू और बीजेपी ने तेजस्वी यादव पर जमकर निशाना साधा और कहा कि वो खुद अपने पिता के बल पर बिहार सरकार में मंत्री बने थे भूल गए।

पढ़ें :- देश में कुत्ता-बिल्ली की गणना हो सकती है तो फिर ओबीसी से परहेज क्यूं : तेजस्वी यादव
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...