HBE Ads
  1. हिन्दी समाचार
  2. खेल
  3. कोरोना की मार : जापान ने बढ़ाया लॉकडाउन,अब ओलंपिक के रद्द होने का खतरा मंडराया

कोरोना की मार : जापान ने बढ़ाया लॉकडाउन,अब ओलंपिक के रद्द होने का खतरा मंडराया

दुनिया भर में कोरोना महामारी ने कोहराम मचा रखा है। संक्रमण के मामले बढ़ने के चलते जापान ने अपने यहां लॉकडाउन बढ़ा दिया है, जिसके बाद आशंका जताई जा रही है कि 23 जुलाई से प्रस्तावित खेलों के महाकुंभ ओलंपिक को रद्द किया जा सकता है। बता दें कि एक दिन पहले भारत में कई खिलाड़ियों के कोरोना संक्रमित हो जाने के बाद आईपीएल-2021 को रद्द कर दिया गया है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। दुनिया भर में कोरोना महामारी ने कोहराम मचा रखा है। संक्रमण के मामले बढ़ने के चलते जापान ने अपने यहां लॉकडाउन बढ़ा दिया है, जिसके बाद आशंका जताई जा रही है कि 23 जुलाई से प्रस्तावित खेलों के महाकुंभ ओलंपिक को रद्द किया जा सकता है। बता दें कि एक दिन पहले भारत में कई खिलाड़ियों के कोरोना संक्रमित हो जाने के बाद आईपीएल-2021 को रद्द कर दिया गया है।

पढ़ें :- Budget 2024: बजट में राज्यों के साथ पूरी तरह से किया गया भेदभाव...जानिए इंडिया गठबंधन की बैठक में क्या बनी रणनीति?

जापान की सरकार ने देश में कोरोना का कहर एक बार फिर बढ़ने के बाद लॉकडाउन आगे बढ़ाने का फैसला किया है। ओक्यो, ओसाका, क्योटा और ह्योगो समेत जापान के कई बड़े शहरों में 23 अप्रैल से 11 मई तक के लिए लॉकडाउन लगाया दिया है। लेकिन कोरोना संक्रमण पर पूरी तरह ब्रेक लगाने के लिए अधिकारी इस लॉकडाउन को आगे बढ़ाने पर विचार कर रहे हैं। इससे खेलों के महाकुंभ ओलंपिक के आयोजन पर खतरा मंडरा रहा है। कोरोना वायरस के लगातार बढ़ रहे खतरे और इसके महामारी का रूप लेने के बाद टोक्यो ओलंपिक 2020 में होने वाले मुकाबलों को 23 जुलाई के लिए स्थगित कर दिया गया था।

बता दें कि लोगों का मानना है कि हर 40 साल बाद होने वाले ओलंपिक पर किसी ना किसी वजह से आयोजन में परेशानी आती है। इससे पहले 1940 और 1980 में ओलंपिक कार्यक्रम खटाई में पड़ गया था। 1940 में ओलंपिक को रद्द करना पड़ा था, तो वहीं 1980 में दूसरे में बड़े देशों ने इसका बहिष्कार कर दिया।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...