1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Mainpuri bypoll 2022: सपा ने डिंपल यादव को मैनपुरी से बनाया प्रत्याशी

Mainpuri bypoll 2022: सपा ने डिंपल यादव को मैनपुरी से बनाया प्रत्याशी

समाजवादी पार्टी ने मैनपुरी से डिपंल यादव को उम्मीदवार बनाया है। बीते कई दिनों से डिंपल यादव के नाम की चर्चा भी चल रही थी। अब सपा ने इसको लेकर अधिकारिक ऐलान कर दिया है। बता दें कि मुलायम सिंह यादव के निधन के बाद ये सीट ​रिक्त हो गई थी। इसके बाद चुनाव आयोग ने यहां पर उपचुनाव का ऐलान किया।

By शिव मौर्या 
Updated Date

Mainpuri bypoll 2022: समाजवादी पार्टी ने मैनपुरी से डिपंल यादव को उम्मीदवार बनाया है। बीते कई दिनों से डिंपल यादव के नाम की चर्चा भी चल रही थी। अब सपा ने इसको लेकर अधिकारिक ऐलान कर दिया है। बता दें कि मुलायम सिंह यादव के निधन के बाद ये सीट ​रिक्त हो गई थी। इसके बाद चुनाव आयोग ने यहां पर उपचुनाव का ऐलान किया।

पढ़ें :- बेसिक शिक्षा विभाग ने निपुण भारत मिशन प्रचार-प्रसार के लिये जारी किये  आवश्यक निर्देश 

पांच दिसंबर को होगी वोटिंग
मैनपुरी लोकसभा सीट पर उपचुनाव 5 दिसंबर को होगा और वोटों की मतगणना 8 दिसंबर को होगी। समाजवादी पार्टी के गढ़ कहे जाने वाले मैनपुरी में सेंध लगाने के लिए भाजपा भी अपनी रणनीति तैयार कर रही है लेकिन भाजपा ने अपने प्रत्याशी के नाम का ऐलान नहीं किया है। वहीं, समाजवादी पार्टी ने मैनपुरी से डिंपल यादव के नाम का ऐलान कर दिया है।

ऐसा है डिपंल यादव का सियासी सफर
पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव का राजनीतिक करियर उतार-चढ़ाव से भरा रहा है। अपना पहला चुनाव डिंपल यादव हार गईं थीं लेकिन वर्ष 2009 के लोकसभा चुनाव में अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश की दो सीटों फिरोजाबाद और कन्नौज से चुनाव लड़ा। बाद में अखिलेश ने फिरोजबाद सीट छोड़ दी थी। उपचुनाव में डिंपल को वहां से उम्मीदवार बनाया। लेकिन डिंपल कांग्रेसी नेता राज बब्बर से चुनाव हार गईं थी।

कन्नौज से पहली बार जीतीं चुनाव
अखिलश यादव के कन्नौज लोकसभा सीट छोड़ने के बाद वहां 2012 में उपचुनाव हुआ। उपचुनाव में डिपंल यादव को यहां से सपा ने प्रत्याशी बनाया था। इस चुनाव में बसपा, कांग्रेस, भाजपा ने उनके खिलाफ कोई उम्मीदवार नहीं उतारा जबकि, दो लोगों के नामांकन वापस लेने के बाद डिंपल निर्विरोध चुनाव जीतने में कामयाब रहीं। वहीं 2014 लोकसभा चुनाव में भी वह कन्नौज सीट बचा ले गईं थी। हालांकि 2019 के चुनाव में उन्हें हार का सामना करना पड़ा था।

पढ़ें :- उप्र माध्यमिक संस्कृत शिक्षा परिषद की पूर्व मध्यमा से उत्तर मध्यमा स्तर तक की परीक्षाओं का कैलेण्डर जारी

 

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...