1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Nahid Hassan jeevan Parichay : नाहिद हसन की कैराना में दूसरी बार दौड़ी साइकिल, लहराया सपा का झंडा

Nahid Hassan jeevan Parichay : नाहिद हसन की कैराना में दूसरी बार दौड़ी साइकिल, लहराया सपा का झंडा

Nahid Hassan jeevan Parichay : यूपी (UP) के जिले शामली (District Shamli) में निर्वाचन क्षेत्र- 8 कैराना विधानसभा सीट (Constituency- 8 Kairana Assembly seat) नाहिद हसन (Nahid Hassan) समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के टिकट पर उत्तर प्रदेश की 17वीं विधान सभा (17th Legislative Assembly of Uttar Pradesh) में दूसरी बार सदस्य निर्वाचित हुए थे। नाहिद हसन (Nahid Hassan)  ने निकटतम प्रतिद्वंदी भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) के प्रत्याशी मृगांका सिंह (Mriganka Singh) को 21,162 मतों से पराजित कर दूसरी बार इस सीट पर जीत दर्ज की है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Nahid Hassan jeevan Parichay : यूपी (UP) के जिले शामली (District Shamli) में निर्वाचन क्षेत्र- 8 कैराना विधानसभा सीट (Constituency- 8 Kairana Assembly seat) नाहिद हसन (Nahid Hassan) समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के टिकट पर उत्तर प्रदेश की 17वीं विधान सभा (17th Legislative Assembly of Uttar Pradesh) में दूसरी बार सदस्य निर्वाचित हुए थे। नाहिद हसन (Nahid Hassan)  ने निकटतम प्रतिद्वंदी भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) के प्रत्याशी मृगांका सिंह (Mriganka Singh) को 21,162 मतों से पराजित कर दूसरी बार इस सीट पर जीत दर्ज की है।

पढ़ें :- Durga Prasad Yadav Jeevan Parichay: दुर्गा प्रसाद के अभेद्य दुर्ग को कोई नहीं भेद पाया, आठ बार से लगातार चुने जा रहे विधायक

ये है पूरा सफरनामा

नाम- नाहिद हसन
निर्वाचन क्षेत्र – 8, कैराना विधानसभा सीट
जिला – शामली,
दल – समाजवादी पार्टी
पिता का नाम – चौ. मुनव्वर हसन
जन्‍म तिथि –27 जून, 1987
जन्‍म स्थान- कैराना (शामली)
धर्म- इस्लाम
जाति- मुस्लिम गुर्जर (पिछड़ी जाति )
शिक्षा- बीबीए
व्‍यवसाय- कृषि
मुख्यावास: मोहल्ला-आल दरम्यान टाउन, पोस्ट- कैराना, जनपद- शामली, यूपी

कैराना शहर अपनी गंगा जमुनी तहजीब और हिन्दू मुस्लिम संस्कृति का है संगम

कैराना विधानसभा सीट यमुना नदी और हरियाणा राज्य की सीमा से सटी हुई है। मुजफ्फरनगर इस से 50 किमी और ज़िले का मुख्यालय, शामली, इस से 12 किमी की दूरी पर है। पौराणिक मान्यताओ के अनुसार महाभारत काल मे अंगराज कर्ण कर्णपुरी (आधुनिक कैराना ) की स्थापना की थी। समय-समय पर इस ऐतिहासिक नगर का नाम बदलता रहा और आधुनिक समय में यह कैराना के नाम से संबोधित किया जाता है। यह शहर अपनी गंगा जमुनी तहजीब और हिन्दू मुस्लिम संस्कृति के कारण जाना जाता है।

पढ़ें :- Prabhunarayan Singh Yadav jeevan parichay : मोदी लहर में प्रभु नारायण सिंह यादव की इस सीट पर दौड़ी तीसरी बार साइकिल

राजनीतिक योगदान
2014-2017 सोलहवीं विधान सभा (उपचुनाव) के सदस्य प्रथम बार निर्वाचित
मार्च, 2017 सत्रहवीं विधान सभा के सदस्य दूसरी बार निर्वाचित

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...