1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Sonia Gandhi के नेतृत्व में विपक्ष आज Modi Government के खिलाफ फूंकेगा बिगुल, AAP-BSP को नहीं मिला न्योता

Sonia Gandhi के नेतृत्व में विपक्ष आज Modi Government के खिलाफ फूंकेगा बिगुल, AAP-BSP को नहीं मिला न्योता

केंद्र के खिलाफ विपक्षी (Opposition) एकता को धार देने के लिए शुक्रवार शाम को 15 दल वर्चुअल बैठक (Virtual Meeting) होने जा रही है। इस बैठक को कांग्रेस पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने बुलाया है। इस बैठक में आम आदमी पार्टी (AAP) और बहुजन समाजवादी पार्टी (BSP) को कोई न्योता नहीं भेजा गया है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। केंद्र के खिलाफ विपक्षी (Opposition) एकता को धार देने के लिए शुक्रवार शाम को 15 दल वर्चुअल बैठक (Virtual Meeting) होने जा रही है। इस बैठक को कांग्रेस पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने बुलाया है। इस बैठक में आम आदमी पार्टी (AAP) और बहुजन समाजवादी पार्टी (BSP) को कोई न्योता नहीं भेजा गया है।

पढ़ें :- Sonia Gandhi ने पार्टी नेताओं-कार्यकर्ताओं को दी बड़ी नसीहत,कहा- BJP-RSS के झूठ का कीजिए पर्दाफाश

जबकि बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, तमिलनाडु के सीएम एमके स्टालिन, महाराष्ट्र सीएम उद्धव ठाकरे, एनसीपी प्रमुख शरद पवार समेत विपक्षी दलों के बड़े नेता सोनिया गांधी द्वारा बुलाई गई इस बैठक शामिल होंगे। बताया जा रहा है कि विपक्षी एकता दिखाने के लिए कांग्रेस के अलावा विपक्ष की 15 पार्टियों के नेता शामिल होंगे।

प्रस्ताव पास कर सकते हैं विपक्षी नेता

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस बैठक में विपक्षी दल संयुक्त बयान या प्रस्ताव भी पास कर सकते हैं। यह प्रस्ताव कोरोना महामारी के दौरान मोदी सरकार (Modi Government) के प्रदर्शन का आलोचनात्मक मूल्यांकन (Critical Evaluation) होगा। सूत्रों ने बताया कि इसमें मॉनसून सत्र (Monsoon Season) में संसद का न चल पाना, कोरोना वैक्सीनेशन (Corona Vaccination), किसानों के मुद्दे और अर्थव्यवस्था को शामिल किया जाएगा।

विपक्षी एकता को मजबूत करना है लक्ष्य

पढ़ें :- Punjab Breaking: नवजोत सिंह सिद्धू ने फिर बढ़ाई पार्टी हाईकामन की टेंशन, सोनिया गांधी को पत्र लिखकर उठाए ये मुद्दे

इस बैठक का उद्देश्य हाल ही में खत्म हुए मॉनसून सत्र (Monsoon Season) के बाद विपक्षी एकता को और मजबूत करना है। चार सप्ताह चले इस सत्र में राज्यसभा में कांग्रेस पार्टी के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे (Mallikarjun Kharge) के नेतृत्व में विपक्ष का नया समन्वय देखने को मिला है। तो वहीं, दोनों सदनों में विपक्ष को एकजुट करने में राहुल गांधी की उपस्थिति से बढ़ावा मिला है।

बता दें कि इससे पहले 9 अगस्त को कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल (Congress leader Kapil Sibal) ने विपक्षी पार्टियों के नेताओं को डिनर पर बुलाया था। हालांकि, इसमें गांधी परिवार के सदस्यों को आमंत्रित नहीं किया गया था। ऐसे में सोनिया गांधी (Sonia Gandhi)  की इस बैठक को काउंटर के तौर पर देखा जा रहा है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...