1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Shaheen Bagh Bulldozer Live : शाहीन बाग बुलडोजर पर स्थानीय लोगों ने लगाया ब्रेक, AAP विधायक भी उतरे

Shaheen Bagh Bulldozer Live : शाहीन बाग बुलडोजर पर स्थानीय लोगों ने लगाया ब्रेक, AAP विधायक भी उतरे

दिल्ली के शाहीनबाग (Shaheen Bagh) इलाके में MCD के तरफ से सोमवार को अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई के विरोध में आम आदमी पार्टी विधायक अमानतुल्लाह खान (Aam Aadmi Party MLA Amanatullah Khan) भी सड़क पर उतर गए हैं। वह एमसीडी (MCD ) के एक्शन का विरोध कर रहे हैं। वह बुलडोजर वापस जाने की बात कर रहे हैं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। दिल्ली के शाहीनबाग (Shaheen Bagh) इलाके में MCD के तरफ से सोमवार को अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई के विरोध में आम आदमी पार्टी विधायक अमानतुल्लाह खान (Aam Aadmi Party MLA Amanatullah Khan) भी सड़क पर उतर गए हैं। वह एमसीडी (MCD ) के एक्शन का विरोध कर रहे हैं। वह बुलडोजर वापस जाने की बात कर रहे हैं। अमानतुल्लाह खान ने कहा कि एमसीडी बताए कहां पर अतिक्रमण है। शाहीन बाग में कोई अतिक्रमण नहीं है।

पढ़ें :- Turkey-Syria Earthquake : मलबे में दबी मां ने मरने से पहले बच्चे को दिया जन्म, देखें Emotional VIDEO

शाहीन बाग इलाके में स्थानीय लोग दक्षिणी दिल्ली नगर निगम के अतिक्रमण हटाओ अभियान का विरोध जारी है। स्थानीय लोग सड़क पर बैठ चुके हैं। उन्होंने बुलडोजर को रोक दिया है। हालांकि, मौके पर भारी संख्या में पुलिस बल मौजूदगी है।तस्वीरों में देखा जा सकता है कि बुलडोजर के आगे किस कदर भीड़ जमा हो चुकी है।

दिल्ली पुलिस ने सोमवार को शाहीन बाग इलाके में अतिक्रमण हटाने के लिए एमसीडी को फोर्स मुहैया करा दी है। दिल्ली पुलिस के जवान अतिक्रमण कार्य में मदद करने के वास्ते मौके पर पहुंच चुके हैं। निगम के अफसर भी बुलडोजर के साथ मौजूद हैं। एसडीएमसी सेंट्रल जोन के स्थायी समिति के अध्यक्ष राजपाल ने कहा कि जहां भी अतिक्रमण हैं, वहां से अतिक्रमण हटेंगे।

बता दें कि शाहीन बाग एसडीएमसी ( NDMC )  के अधिकार क्षेत्र में आता है। इस इलाके में दिसंबर 2019 में संशोधित नागरिकता कानून के विरोध में लंबे समय तक धरना प्रदर्शन चला था। यह धरना प्रदर्शन कोविड महामारी के फैलने के बाद मार्च 2020 में समाप्त हुआ था।

उत्तरी दिल्ली नगर निगम ( NDMC ) ने जहांगीरपुरी इलाके में सांप्रदायिक हिंसा के चार दिन बाद अतिक्रमण विरोधी अभियान चलाया था। सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने एनडीएमसी ( NDMC )  को यथास्थिति बनाए रखने का आदेश दिया था।

पढ़ें :- अखिलेश ने वीडियो ट्वीट कर बीजेपी सरकार पर कसा तंज, लिखा-'भईया काशी नहीं बन पाया अभी तक क्योटो'

सुप्रीम कोर्ट में शाहीन बाग में एक्शन के खिलाफ याचिका

इस बीच दक्षिण दिल्ली में शाहीनबाग में अवैध निर्माण कर बसाई गई बस्तियों को हटाने के आदेश के खिलाफ भारतीय कम्यूनिस्ट पार्टी मार्क्सवादी यानी सीपीएम ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की है। याचिका में कहा गया है कि प्राधिकरण झुग्गी बस्तियां ढहाने की योजना बना चुके हैं और अगले हफ्ते में उस पर अमल होने वाला है। याचिका में यह भी उल्लेख है कि इसी हफ्ते चार मई को संगम विहार में गरीबों की इमारतों पर बुलडोजर चलाया गया। अब सोमवार तक ओखला शाहीन बाग में भी ऐसा ही करने का ऐलान किया है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...