1. हिन्दी समाचार
  2. ऑटो
  3. 2025 तक 10 नए इलेक्ट्रिक वाहन टाटा मोटर्स करेगी लॉन्च

2025 तक 10 नए इलेक्ट्रिक वाहन टाटा मोटर्स करेगी लॉन्च

टाटा मोटर्स 2025 तक बैटरी से चलने वाले 10 नए इलेक्ट्रिक वाहनों को लॉन्च करेगी। कंपनी के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन ने सोमवार को कहा कि कंपनी स्वच्छ ऊर्जा से चलने वाले वाहनों के निर्माण के लिए अग्रसर है।

By प्रीति कुमारी 
Updated Date

टाटा मोटर्स अपने घरेलू पोर्टफोलियो में नए इलेक्ट्रिक वाहनों को जोड़ने पर काम कर रही है। मौजूदा समय में टाटा मोटर्स घरेलू बाजार में दो पूरी तरह से इलेक्ट्रिक कार मॉडल – नेक्सन इलेक्ट्रिक और टिगोर इलेक्ट्रिक की बिक्री कर रही है। चंद्रशेखरन ने बताया कि टाटा मोटर्स की कारों की बिक्री में इलेक्ट्रिक कारों की भागीदारी 2 प्रतिशत है जो आने वाले कुछ सालों में तेजी से बढ़ने के आसार हैं। उन्होंने बताया कि टाटा मोटर्स 2025 तक 10 नए इलेक्ट्रिक वाहनों के साथ इलेक्ट्रिक व्हीकल (ईवी) बाजार का प्रतिनिधित्व करेगी।
चंद्रशेखरन ने सरकारी प्रोत्साहन पर ध्यान देते हुए कहा कि सरकार देश में कार्बन फुटप्रिंट (Carbon Footprint) को कम करने के लिए हरसंभव प्रयास कर रही है। सरकार देश में इलेक्ट्रिक वाहन निर्माताओं को निवेश के लिए आकर्षित कर रही है साथी ही घरेलू निर्माताओं को उत्पादन से जुड़े कई योजनाओं के जरिये लाभ भी दे रही है। उन्होंने बताया कि सरकार ने अपनी इलेक्ट्रिक वाहन नीतियों के तहत सब्सिडी दे कर इलेक्ट्रिक वाहनों के खरीद को बढ़ावा भी दिया है। केंद्रीय बजट 2022 में सकरार ने इलेक्ट्रिक वाहनों पर उत्पाद और सेवा कर (जीएसटी) को 12 प्रतिशत से घटाकर 5 प्रतिशत कर दिया। इसके अलावा इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने वालों को इनकम टैक्स में भी छूट दिया जा रहा है। यह इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने वालों के लिए एक बड़ा प्रोत्साहन है।
चंद्रशेखरन ने बताया कि टाटा नेक्सन ईवी देश की सबसे ज्यादा बिकने वाली इलेक्ट्रिक कार है। जनवरी 2020 में लॉन्च के बाद नेक्सन ईवी की अबतक 4,000 यूनिट्स से ज्यादा की बिक्री हो चुकी है। कंपनी अल्ट्रोज हैचबैक के इलेक्ट्रिक वर्जन को आने वाले कुछ महीनों में लॉन्च करेगी। चंद्रशेखरन ने कहा, ” टाटा मोटर्स देश में इलेक्ट्रिक वाहनों के इकोसिस्टम को तैयार करने वाली पहली कंपनी है। कंपनी ने इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए चार्जिंग स्टेशन, बैटरी प्लांट और आफ्टर सेल्स सर्विस सुविधाओं का निर्माण किया है। देश में ईवी इकोसिस्टम के निर्माण के लिए टाटा ग्रुप की सात कंपनियां – टाटा मोटर्स, टाटा पॉवर, टाटा केमिकल्स, क्रोमा, टाटा ऑटो कंपोनेंट्स और टाटा मोटर्स फाइनेंस मिलकर काम कर रही हैं।
इस साल टाटा मोटर्स की ब्रिटिश सहायक कंपनी – जैगुआर लैंडरोवर ने इलेक्ट्रिक वाहनों पर अपनी नीति की घोषणा की है। कंपनी ने बताया है कि 2030 तक हर 10 कारों में 6 कार इलेक्ट्रिक होंगी। उन्होंने बताया कि सरकार को ईवी बिक्री के लिए लंबी अवधि के दृष्टिकोण में सुधार करना होगा, जिससे 2032 तक देश में सभी वाहनों का विद्युतीकरण के लक्ष्य को पूरा किया जा सके।

पढ़ें :- टाटा मोटर्स के बोर्ड ने एनसीडी के जरिए 500 करोड़ रुपये जुटाने की योजना को मंजूरी दी
Jai Ho India App Panchang

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...