1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. केंद्र सरकार ने सम्मेद शिखरजी पर लिया बड़ा फैसला, जैन समाज के विरोध के बाद टूरिज्म गतिविधियों पर लगी तत्काल रोक

केंद्र सरकार ने सम्मेद शिखरजी पर लिया बड़ा फैसला, जैन समाज के विरोध के बाद टूरिज्म गतिविधियों पर लगी तत्काल रोक

झारखंड के पारसनाथ में स्थित जैन समुदाय के पवित्र तीर्थ स्थल सम्मेद शिखर पर केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। केंद्र ने कहा कि ये अब पर्यटन क्षेत्र नहीं होगा। केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव ने बताया है कि पर्यटन, इको टूरिज्म गतिविधियों पर तत्काल रोक लगा दी गई है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

नई दिल्ली। झारखंड के पारसनाथ में स्थित जैन समुदाय के पवित्र तीर्थ स्थल सम्मेद शिखर पर केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। केंद्र ने कहा कि ये अब पर्यटन क्षेत्र नहीं होगा। केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव ने बताया है कि पर्यटन, इको टूरिज्म गतिविधियों पर तत्काल रोक लगा दी गई है। उन्होंने ये भी बताया कि पारसनाथ क्षेत्र में शराब, तेज आवाज में गाने और मांस की बिक्री पर भी पाबंदी लगाई जा रही है।

पढ़ें :- यूपी देश के टॉप-4 राज्यों में शामिल, 75 लाख से अधिक नल कनेक्शन देने का आंकड़ा किया पार

इस फैसले के बाद जैन समाज ने खुशी जताई है और सरकार का आभार जताया है। केंद्रीय पर्यावरण मंत्री भूपेंद्र यादव ने ट्विटर के जरिए इसकी जानकारी दी है। बता दें कि, पिछले काफी दिनों से देशभर में जैन समाज के लोग आंदोलन कर रहे थे। उनकी मांग थी कि झारखंड के गिरिडीह जिले में पारसनाथ की पहाड़ी में स्थित सम्मेद शिखरजी को पर्यटन स्थल घोषित करने के फैसले को वापस लिया जाए। क्योंकि वहां मांस और शराब की बिक्री होने लगी है।

इसे लेकर जैन समाज के तमाम पदाधिकारियों ने पर्यटन मंत्री भूपेंद्र यादव से मुलाकात की। जिसके बाद उन्होंने जैन समाज को भरोसा दिलाया कि उनकी धार्मिक भावनाओं का खयाल रखा जाएगा।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...