1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. Lord Badrinath Temple : भगवान बद्रीनाथ मंदिर के कपाट शीतकाल के लिए आज होंगे बंद, बड़ी संख्या में पहुंचे श्रद्धालु

Lord Badrinath Temple : भगवान बद्रीनाथ मंदिर के कपाट शीतकाल के लिए आज होंगे बंद, बड़ी संख्या में पहुंचे श्रद्धालु

विश्‍व-प्रसिद्ध आस्था के केंद्र भगवान बद्रीनाथ मंदिर का कपाट आज शाम से शीतकालीन अवकाश के लिए बंद हो रहा है। बद्रीनाथ धाम में भव्य और परम्परा के अनुसार तैयारियां की जा रहीं हैं।

By अनूप कुमार 
Updated Date

Lord Badrinath Temple : विश्‍व-प्रसिद्ध आस्था के केंद्र भगवान बद्रीनाथ मंदिर का कपाट आज शाम से शीतकालीन अवकाश के लिए बंद हो रहा है। बद्रीनाथ धाम में भव्य और परम्परा के अनुसार तैयारियां की जा रहीं हैं। मंदिर के कपाट बंद करने की शुभ-तिथि की घोषणा दशहरे के मौके पर की गई थी।आज यानी कि, शनिवार शाम 6:45 बजे इसे भक्‍तों के लिए कई महीनों तक बंद कर दिया जाएगा।

पढ़ें :- Vastu Tips:जहां भी तुलसी का पौधा लगा हो वहां झाड़ू या डस्टबीन न रखें, देवतुल्य पौधा लगाने के बारे में जानिए

खबरों के अनुसार,उत्तराखंड-चार धाम देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड के प्रवक्ता हरीश गौर ने बताया कि, स्थानीय मंदिर निकायों और पुजारियों द्वारा ज्योतिषीय गणना के माध्यम से चार धाम मंदिरों के कपाट बंद करने का शुभ समय आ गया था। जिसके बाद ही फैसला लिया गया।कपाट बंद होने के अलौकिक क्षणों के साक्षी बनने के लिये बड़ी संख्या में श्रद्धालु भी बदरीनाथ धाम पहुंचे हैं।

कपाट बंद किए जाने के दौरान भव्य तैयारियों के बीच 20 क्विंटल गेंदा, कमल और अन्य फूल मंगवाए गए।

इससे पहले 6 नवंबर को भाई दूज के अवसर पर परंपरा के अनुसार केदारनाथ और यमुनोत्री के कपाट बंद कर दिए गए थे, जबकि तुंगनाथ मंदिर 30 अक्टूबर को शीतकालीन अवकाश के लिए बंद कर दिया गया था। गौर ने कहा कि केदार श्री मदमहेश्वर मंदिर 22 नवंबर को बंद हो जाएगा और श्री मदमहेश्वर मेला 25 नवंबर को लगेगा।

पढ़ें :- sri ganeshaya namah: श्री गणेश भगवान को मोदक है प्रिय, इन मंत्रों से करें गजानन को अर्पण
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...